अनलॉक प्रक्रिया के बीच विशेषज्ञों की समिति ने की सभी कक्षाओं के लिये शालाएं खोलने की सिफारिश!

नमस्कार, ये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया है। अब आप साई न्यूज की समाचार श्रंखला में सुनिये बुधवार 25 अगस्त का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन.
——–
उच्चतम नयायालय ने बुधवार को कहा कि कानून के तहत राज्य सरकारों को दुर्भावनापूर्ण आपराधिक मामलों को वापस लेने का अधिकार है और वह ऐसे मामलों को वापस लिए जाने के विरोध में नहीं है, लेकिन ऐसे मामलों पर संबंधित उच्च न्यायालयों द्वारा गौर किया जाना चाहिए।
उच्चतम न्यायालय ने सांसदों और विधायकों के विरूद्ध प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) तथा केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) द्वारा दर्ज मामलों की जांच और सुनवाई में अत्याधिक देरी पर भी चिंता व्यक्त की तथा केंद्र से कहा कि वह आवश्यक मानव संसाधन और बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराये।
——–
प्रधान न्यायाधीश एन.वी. रमण, न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति सूर्य कांत की पीठ ने कहा है कि वह इस मुद्दे पर एक विस्तृत आदेश पारित करेगी। इसके साथ ही पीठ ने कहा कि वह ईडी या सीबीआई जैसी जांच एजेंसियों पर कुछ भी नहीं कह रही या कोई राय नहीं व्यक्त कर रही क्योंकि इससे उनका मनोबल प्रभावित होगा। लेकिन उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सुनवाई शीघ्र पूरी हो।
सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय जैसी एजेंसियों को सांसदों और विधायकों के विरूद्ध मामलों की जांच में देरी करने पर जमकर फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा कि मामले 10-15 वर्ष से लंबित हैं और चार्जशीट तक दायर नहीं की गई है। भारत के मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमण ने पूछा ऐसा क्यों है? कोर्ट ने एजेंसियों से कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा प्रवर्तन निदेशालय केवल संपत्तियों को कुर्क कर रहा है और कुछ नहीं किया जाता है।
——–
लेखिका और पत्रकार मृणाल पांडे ने भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा पर उनके उस बयान के लिए निशाना साधा है जिसमें जे.पी. नड्डा ने कहा था कि केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी संविधान के मूल्यों का उल्लंघन है। जे.पी. नड्डा ने नारायण राणे की गिरफ्तारी की निंदा की थी। भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मृणाल पांडे ने ट्वीट किया, जब भीष्म अंत समय पांडवों को नैतिक उपदेश दे रहे थे तो द्रौपदी जोर से हंसी। क्रोधी भीम को रोक कर युधिष्ठिर ने उससे वजह पूछी। वह बोली मैं सोच रही थी कि पितामह का यह सारा ज्ञान तब कहां था, जब बालों से घसीट कर लाई गई इनकी कुलवधू को भरी सभा में इनके वंशधर बार-बार अपमानित कर रहे थे?
——–
देश में कोरोना के कम होते मामलों को बीच अब अनलॉक की प्रक्रिया जारी है। दिल्ली में शालाएं खोलने को लेकर एक्सपर्ट कमेटी ने अपनी रिपोर्ट सरकार को दे दी है। सूत्रों के अनुसार समिति ने सभी कक्षाओं के लिए शालाएं खोलने की सिफारिश की है। वहीं बिहार में भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सिनेमा हॉल, क्लब, जिम, स्वीमिंग पूल खोलने की अनुमति सरकार ने दे दी है।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया कि कोविड की स्थिति की समीक्षा की गई। कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार को देखते हुए सभी दुकानें, प्रतिष्ठान, शापिंग माल, पार्क, उद्यान एवं धार्मिक स्थल सामान्य रूप से खुल सकेंगे।
——–
प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी बिहार में बाढ़ ने कहर मचाया हुआ है। राज्य में बाढ़ से स्थिति लगातार भयावह हो रही है। इसी बीच केंद्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण मंत्री पशुपति कुमार पारस ने इसको लेकर एक विवादित बयान दिया है।
नरेंद्र मोदी कैबिनेट में हाल ही में शामिल हुए पशुपति कुमार पारस ने बाढ़ को देवीय प्रकोप बताया और कहा कि वे पीड़ितों से मिलने के लिए भी नहीं जाएंगे। कैबिनेट में शामिल होने के बाद वे सोमवार को पहली बार बिहार पहुंचे। इस दौरान प्रेस को संबोधित करते हुए अपने संसदीय क्षेत्र हाजीपुर में पारस ने कहा कि बाढ़ देवीय प्रकोप है। देश के साथ बिहार में भी बाढ़ का खासा प्रभाव है। प्रत्येक वर्ष बिहार में बाढ़ आती है।
उन्होंने कहा, बिहार में बाढ़ के समाधान के लिए नेपाल से बातचीत करनी होगी। जो भारत सरकार करेगी। ये एक लंबा प्रोसेस है। प्रत्येक वर्ष बाढ़ आती है और उसी हिसाब से बाढ़ पीड़ितों की सहायता की जाती है। प्रशासन की तरफ से जो संभव होगा, हम लोग करेंगे।
——–
भारत में कोरोना के मामले भले ही घट रहे हों लेकिन अभी भी कोरोना का कहर बरकार है। डब्ल्यू.एच.ओ. की मुख्य वैज्ञानिक ने कहा है कि भारत में अभी कोरोना बना रह सकता है। उधर अफगानिस्तान से भारत आए लोगों में से 16 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनके संपर्क में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी भी आए थे।
विश्व स्वास्थ्य संगठन की मुख्य वैज्ञानिक डॉ.सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि भारत में अभी कोरोना बना रहेगा। यहां कोविड -19 स्थानिकता के चरण में प्रवेश कर रहा है, जहां निम्न या मध्यम स्तर का संक्रमण चल रहा है। स्थानिक अवस्था तब होती है जब कोई आबादी वायरस के साथ रहना सीखती है। यह महामारी के चरण से बहुत अलग है, जब वायरस एक आबादी पर हावी हो जाता है।
——–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य, यात्रा या समारोह आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 प्रतिशत तक सही साबित हुए हैं।
——–
पंजाब काँग्रेस में सियासी झगड़ा अभी समाप्त नहीं हुआ है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के खेमों के बीच सत्ता को लेकर खींचतान अब भी जारी है। इंदिरा गांधी और कश्मीर पर बयान को लेकर विवाद में आए नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मालविंदर सिंह माली ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को अली बाबा और उनके सहयोगियों को चालीस चोर बताया है। काँग्रेस में फिर से खींचतान की खबर उस समय सामने आई, जब चार कैबिनेट मंत्रियों और पार्टी के कई विधायकों ने मुख्यमंत्री सिंह को हटाने की खुले तौर पर वकालत करते हुए कहा कि वे कुछ प्रमुख चुनावी वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं। वहीं, माली भी लगातार विवादित बयानों से सुर्खियों में बने हुए हैं।
मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और उनके वफादार मंत्रियों पर हमला करते हुए मालविंदर सिंह माली ने अपने लेटेस्ट फेसबुक पोस्ट में अमरिंदर सिंह को अली बाबा और उनके समर्थकों को चालीस चोर कहा है। अमरिंदर खेमे को चेतावनी देते हुए माली ने अपने फेसबुक पोस्ट में कहा कि नवजोत सिद्धू न तो दूल्हे की तरह काम करेंगे, न ही अली बाबा और चालीस चोर की बारात का नेत्तृत्व करेंगे।
——–
जम्मू-कश्मीर में चेनाब नदी पर बन रहे भारत के किरू हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्लांट प्रोजेक्ट ने पाकिस्तान को परेशान कर दिया है। पाकिस्तान ने इस प्रोजेक्ट के डिजाइन को लेकर आपत्ति दर्ज की है। हालांकि, भारत ने एक बार फिर से स्पष्ट कर दिया है कि यह पनबिजली योजना पूरी तरह से सिंधु जल समझौते के अनुरूप है। पाकिस्तान ने बीते हफ्ते इस परियोजना के डिजाइन पर आपत्ति जताई है।
भारत के सिंधु जल आयोग के प्रमुख प्रदीप कुमार सक्सेना ने बताया कि उनके पाकिस्तानी समकक्ष सैयद मोहम्मद मेहर अली शाह ने बीते हफ्ते आपत्ति दर्ज कराई थी। हालांकि, प्रदीप सक्सेना ने इस बात पर जोर दिया कि डिजाइन पूरी तरह से सिधु जल समझौते के प्रावधानों के अनुरूप है। देश में जल संसाधन से जुड़े शीर्ष संगठन सेंट्रल वॉटर कमिशन ने भी इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है।
——–
अफगानिस्तान के पूर्व आईटी मंत्री सैयद अहमद शाह सआदत जर्मनी में पिज्जा बेच रहे हैं। पिज्जा कंपनी की यूनिफॉर्म पहने हुए वे जर्मन शहर लीपजिग में साइकिल से पिज्जा डिलीवरी कर रहे हैं। उन्होंने आईटी मंत्री रहते अफगानिस्तान में सेल फोन नेटवर्क को बढ़ावा दिया था। बाद में वे अफगानिस्तान छोड़कर जर्मनी आ गए थे
अलजजीरा के हवाले से सआदत ने बताया कि उन्होंने पिछले वर्ष ही सूचना मंत्री के पद से स्तीफा दे दिया था। उनके और राष्ट्रपति गनी के बीच कई मसलों पर मतभेद थे। स्तीफा देकर कुछ समय वे देश में ही रहे, लेकिन फिर जर्मनी चले आए। शुरुआत में सब अच्छे से चलता रहा, लेकिन पैसे की कमी होने के बाद उन्होंने पिज्जा डिलीवरी बॉय बनना तय किया। उनका कहना है कि डिलीवरी का काम करने में कोई शर्म की बात नहीं है।
इधर, तालिबान ने मंगलवार को अपनी अंतरिम सरकार के कई मंत्रियों का ऐलान किया है। खास बात यह है कि संगठन ने किसी समय तालिबान के कट्टर विरोधी रहे गुल आगा शेरजई को वित्तमंत्री नियुक्त किया है। शेरजई पहले कंधार और फिर नंगरहार के गवर्नर रहे हैं।
———
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रंखला में शरद खरे से बुधवार 25 अगस्त का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन। बृहस्पतिवार 26 अगस्त को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, जय हिन्द।
(साई फीचर्स)