राजस्थान सरकार के मंत्री के ब्राम्हणों पर दिये गये बयान से मचा बवाल!

नमस्कार, ये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया है। अब आप साई न्यूज की समाचार श्रंखला में सुनिये रविवार 29 अगस्त का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन.
——–
पेंशनभोगियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से देश के वरिष्ठ नागरिकों को राहत के लिए पेंशन को आयकर से मुक्त करने की मांग की है। पेंशनभोगियों की संस्था भारतीय पेंशनभोगी मंच ने इस बारे में 25 अगस्त को प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। पत्र में दलील दी गई है कि जब सांसदों और विधायकों की पेंशन पर टैक्स नहीं लगता है, तो सरकार सेवानिवृत्त कर्मचारियों को मिलने वाली पेंशन पर इन्कम टैक्स क्यों लेती है।
पत्र में कहा गया है कि प्रत्येक सेवानिवृत्त व्यक्ति को पेंशन का भुगतान बरसों तक देश की सेवा के लिए किया जाता है। मंच ने कहा, अब सवाल उठता है कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों पर आयकर क्यों लगता है। यह किसी सेवा या कार्य से मिलने वाली आय नहीं है। यदि सांसद और विधायकों की पेंशन करमुक्त है, तो हमारी पेंशन पर कर क्यों लिया जाता है।
——–
शनिवार को हरियाणा के करनाल में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की मीटिंग का विरोध करने पहुंचे प्रदर्शनकारी किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसमें कई किसान गंभीर रूप से घायल हो गए और कई किसानों के सिर तक फूट गए। करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत भड़क गए और उन्होंने कहा कि देश में सरकारी तालिबानों का कब्ज़ा हो चुका है। साथ ही उन्होंने कहा कि देश में सरकारी तालिबानों के कमांडर भी मौजूद हैं जिन्होंने सिर फोड़ने के आदेश दिए हैं।
किसान नेता राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इन कमांडर्स की पहचान करनी होगी। सिर फोड़ने का आदेश जिन्होंने दिया वही कमांडर है। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस फ़ोर्स की ताकत के सहारे वे पूरे देश पर कब्ज़ा करना चाहते हैं।
——–
देश के नामी विश्वविद्यालयों में शुमार दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) ने उस प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है, जिसमें दक्षिणपंथी नेता व राष्ट्रवादी विचारक वी.डी. सावरकर आदि के नाम पर नए कॉलेजों और सुविधा केंद्र के नाम रखने की बात है।
बुधवार को डीयू एकैडमिक काउंसिल ने स्थापित होने वाले नए कॉलेज और संस्थाओं के लिए कुछ नामों को मंजूरी दी, जिनमें सावरकर के अलावा दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, भारतीय जनता पार्टी के दिवंगत नेता अरुण जेटली और सुषमा स्वराज, देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल, दिल्ली के पहले सीएम चौधरी ब्रह्म प्रकाश और जाने-माने दलित नेता ज्योतिबा बाई फुले आदि के नाम शामिल हैं।
——–
राजस्थान की गहलोत सरकार में मंत्री शांति धारीवाल के एक वायरल वीडियो पर बवाल मचा हुआ है। वायरल वीडियो में मंत्री शांति धारीवाल ब्राह्मणों पर विवादित टिप्पणी करते हुए कह रहे हैं कि क्या ब्राह्मणों ने बुद्धि का ठेका ले रखा है। ब्राह्मण समाज को लेकर विवादित बयान देने के कारण विवाद बढ़ने पर मंत्री शांति धारीवाल ने सफाई पेश करते हुए कहा है कि वे मजाक कर रहे थे।
दरअसल वायरल वीडियो में राजस्थान सरकार में शहरी विकास मंत्री शांति धारीवाल एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दिखाई दे रहे हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वे कह रहे हैं कि मैं ब्राह्मणों से कहता हूं कि यदि तुमने बुद्धि का ठेका ले रखा है तो मेरे यहां कोटा के कोचिंग इंस्टीट्यूट जो पूरे देश भर में प्रसिद्ध हैं उनका जो रिजल्ट आता है उनमें 100 में से 70 बनिया कैसे आता है? तुम लोग कैसे पीछे रह जाते हो? उनके पास इसका कोई जवाब नहीं है।
——–
कुछ माह से कोरोना की बुरी मार झेल रहे केरल के लिए एक और मुसीबत आ गई है। दरअसल, स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले पांच महीनों में केरल में लगभग 300 से अधिक बच्चे मल्टी-सिस्टम इंफ्लेमेटरी सिंड्रोम-इन चिल्ड्रन, (एक प्रकार का पोस्ट-कोविड कॉम्पलीकेशन) से संक्रमित हुए। इनमें से 04 की मौत हो गई।
इस बीमारी का उपचार संभव है, लेकिन यदि इसे अनदेखा किया गया, तो यह मुश्किल हो जाएगा।
आईए बताते हैं एम.आई.एस.-सी. के लक्षणों के बारे में। विशेषज्ञों ने कहा है कि एम.आई.एस.-सी. उन बच्चों में पोस्ट कोविड बीमारी है जिनमें कोरोना वायरस से उबरने के तीन-चार सप्ताह बाद बुखार, पेट दर्द, आंख लाल होना और मतली के लक्षण सामने आए थे। राज्य के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अब तक कोविड -19 से संक्रमित सभी राज्य की आबादी में से 10 प्रतिशत में 18 वर्ष से कम आयु के बच्चे शामिल हैं, जबकि अधिकांश एम.आई.एस.-सी. संक्रमित मामले 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों में हैं। पहला एम.आई.एस.-सी. मामला इस वर्ष मार्च में तिरुवनंतपुरम में सरकारी अस्पताल में रिपोर्ट किया गया था।
——–
असम में गुवाहाटी पुलिस ने दो अलग-अलग स्थानों से 1.75 किलोग्राम हेरोइन जप्त की है, जिसकी कीमत 14 करोड़ रुपये आंकी गई है और कम से कम छः मादक पदार्थ तस्करों को गिरफ्तार किया है। गुवाहाटी के पुलिस आयुक्त हरमीत सिंह ने बताया कि पुलिस को मुखबिरों से सूचना मिली थी जिसके बाद शनिवार देर रात अभियान चलाकर नशीला पदार्थ जप्त किया गया।
उन्होंने बताया कि पिछली रात, शहर के विभिन्न हिस्सों में हमने दो स्थानों से नशीले पदार्थ जप्त किए। पहले मामले में हमने लगभग 1.3 किलोग्राम हेरोइन जप्त की। दूसरे अभियान में लगभग 450 ग्राम हेरोइन जप्त की गई। सिंह ने कहा कि बाजार में मादक पदार्थ की कीमत लगभग 14 करोड़ रुपये आंकी गई है।
——–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य, यात्रा या समारोह आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 प्रतिशत तक सही साबित हुए हैं।
——–
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसे खरी-खरी सुनाई। राजनाथ सिंह ने कहा कि एक देश आतंकवाद का सहारा ले रहा है। वो बोले कि भारत अपनी सुरक्षा से समझौता नहीं करेगा और आवश्यकता पड़ी तो हम उनकी जमीन पर जाकर टेररिज्म को खत्म करेंगे। राजनाथ तमिलनाडु के वेलिंगटन में डिफेंस सर्विस स्टाफ कॉलेज के कार्यक्रम में बोल रहे थे।
राजनाथ सिंह ने कहा कि यदि भारत और पाकिस्तान के बीच सीजफायर सफल हुआ है तो यह हमारी ताकत की वजह से हुआ है। 2016 में पाकिस्तान की ओर से क्रॉस-बॉर्डर स्ट्राइक्स के कारण हमारा रवैया प्रतिक्रिया देने की बजाय आक्रामक हुआ है। 2019 में बालाकोट एयरस्ट्राइक से इसे मजबूती मिली है।
भारत अपनी जमीन पर तो आतंक का खात्मा करेगा ही। दूसरे की जमीन पर जाकर आतंक का खात्मा करने की आवश्यकता पड़ी तो भी भारत पीछे नहीं रहेगा। हमारे भारत में यह क्षमता निर्मित हो गई है कि हम अपनी जमीन से भी वार कर सकते हैं और उसकी जमीन पर जाकर भी वार कर सकते हैं।
——–
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार को भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या पहुंचे। ज्ञानी जैल सिंह के बाद 38 वर्ष में पहली बार भारत के कोई राष्ट्रपति अयोध्या पहुंचे हैं। राष्ट्रपति ने इस दौरान रामायण कॉन्क्लेव का शुभारंभ किया। बोले, बिना राम के अयोध्या नगरी की कल्पना करना भी मुमकिन नहीं है। राम के बिना अयोध्या है ही नहीं। अयोध्या तो वहीं है… जहां प्रभु श्री राम हैं। इसके बाद राष्ट्रपति ने हनुमानगढ़ी में पूजा अर्चना की।
इस दौरान देश की प्रथम महिला सविता कोविंद, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा भी उपस्थित रहे। रामायण कॉन्क्लेव के शुभारंभ समारोह में लोक गायिका मालिनी अवस्थी ने गीतों की शानदार प्रस्तुति दी। पूरा माहौल भक्तिमय हो गया। कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों ने जय श्री राम का जय घोष किया।
महामहिम परिवार के साथ रामलला का दर्शन करने पहुंचे हैं। यहां रामलला की आरती की। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी की रामलला की आरती की। मुख्य पुजारी सत्येंद्र दास व सहायक पुजारी संतोष तिवारी ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजन कराया। वहीं, दोनों डिप्टी सीएम व पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी भी उपस्थित रहे। परिसर में ही रुद्राक्ष के पौधे का रोपण किया। इसके साथ ही राम मंदिर का निर्माण कार्य देखा।
———
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रंखला में शरद खरे से रविवार 29 अगस्त का राष्ट्रीय ऑडियो बुलेटिन। सोमवार 30 अगस्त को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, जय हिन्द।
(साई फीचर्स)