ब्रासंस राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप सिंह बैस ने सांसद ढालसिंह बिसेन को लिखा खुला पत्र. . .

(ब्यूरो कार्यालय)
सिवनी (साई)। बालाघाट के सांसद डॉ. ढाल सिंह बिसेन पर निष्क्रिय रहने के आरोप लगाने वाले ब्राडगेज संघर्ष समिति और सांसद के हितचिंतकों के बीच रार बढ़ती दिख रही है।
27 अगस्त को ब्रासंस ने रेल्वे स्टेशन पर सांसद डॉ. ढाल सिंह बिसेन के न केवल मुर्दाबाद के नारे लगाए वरन उनके चित्र वाले पोस्टर्स भी जलाए। इसके बाद भाजपा के एक धड़े के द्वारा ब्रासंस के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप सिंह बैस एवं जिले से प्रकाशित सबसे पुराने एवं पाठकों के बीच विश्वसनीयता का पैमाना बने एक दैनिक के खिलाफ शिकायत कर दी।
अब ब्राडगेज संघर्ष समिति के अध्यक्ष अनूप सिंह बैस के द्वारा बालाघाट सांसद डॉ. ढाल सिंह बिसेन को एक खुला पत्र लिखा गया है, जिसे मीडिया को भी जारी किया गया है।
पत्र में उन्होंने कहा है कि सांसद ढालसिंह बिसेन जी सुना है आप ब्राडगेज संघर्ष समिति द्वारा चलाये जा रहे जनजागरण अभियान एवं आंदोलन से विचलित हो गये है साथ ही आपके सानिध्य और अर्शीवाद से सिवनी में भू व्यवसाय से जुडे लोगों का यह कहना है कि आपकी छवि धूमिल हो रही है। यह तो ठीक वैसा ही है कि धूल चेहरे पर हो और हम आइना साफ करें क्योंकि ब्राडगेज संघर्ष समिति ने सिवनी पहंूचकर आपको आइना दिखाया हैं। आप स्वयं इस बात पर विचार करें कि आपके गृह जिले सिवनी में ही ब्राडगेज कार्य नही हो पाया और आप हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे।
पत्र में ब्रासंस के अध्यक्ष ने आगे कह है कि सिवनी रेलवे स्टेशन का मुख्य द्वार आबादी से विपरीत दिशा में कैसे हो गया! यह आपकी सहमति से ही हुआ क्योंकि उस छोर पर आपके यही शुभचिंतक कालोनियां बनाकर कौडिय़ो के दाम वाली जमीन को करोड़ो की बनाकर बेचना चहाते हैं। मुझे स्वयंभू कहने वाले आपके दाहिने हाथ भाजपा के संजीव मिश्रा कितने बड़े भू लिप्सा हैं ये सिवनी का बच्चा – बच्चा जानता है कि इनके भाई के द्वारा विकसित की गई कालोनियां, बिना कालोनाइजर एक्ट के पास होकर नगर पालिका द्वार कैसे अवैध को वैध बनाकर अधिग्रहित कर ली गई! यह सब सीबीआई जांच का विषय है।
अनूप सिंह बैस ने अपने पत्र में लिखा है कि मेरे राष्ट्रीय अध्यक्ष होने पर आपके — दारो ने प्रश्न उठाये हैं उन्हे मैं बताना चहाता हूं कि मेरे पिता एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे जिनका कार्य क्षेत्र बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा था, वे अग्रेंजो से लोहा लेते हुये जेल इसलिये गये थे कि उनमें राष्ट्र प्रेम और राष्ट्रीयता की भावना थी, और वही राष्ट्रीयता की भावना मेरे अंदर होने से मै राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं तथा जिसकी शाखाऐं देश भर अनेक जिलों में है।
उन्होंने आगे कहा है कि दुख का विषय है कि जबलपुर के सांसद ने जबलपुर से इटारसी होकर नागपुर ट्रेन चलवा दी लेकिन बालाघाट गोंदिया के बीच में आप कोरोना का बहाना कर रेलवे के अधिकारियों का बचाव कर रहे हैं, जो हास्यापद हैं। महाराष्ट्र एवं मध्य प्रदेश की बार्डर पर रजेगांव तथा बोनकटटा बार्डर, मोवाड़ बार्डर पर बसों का परिवहन बंद होने से गरीब आदमी को लूटा जा रहा है, दो साल से गरीब आदमी पैदल राज्य सीमा पार कर रहा है, और आप कोई प्रयास नही कर रहे हैं।
अनूप सिंह बैस ने आगे कहा कि डॉक्टर होने के बावजूद आप कोरोना का बहाना बनाकर पहली और दूसरी लहर में नही निकले, आपका इसी दौरान का वह विडियों भी वायरल हुआ जिसमें आप जब कोरोना के कारण सभी निर्माण बंद थे तो अपने रसूख से अपने बेटे का हॉस्पिटल बनवा रहे थे, लोग ऑक्सिजन सिलेंडर मांग रहे थे और आप उन्हें लाशें जलाने लकड़ी दे रहे थे।
उन्होंने कहा कि सिवनी में जब अतिक्रमण तोडऩे की बात आई तो विधायक मुनमुन राय ने अपना 80 फीट की सड़क पर अतिक्रमण की जद में आने वाला हिस्सा खुद ही तोड़ दिया किन्तु आपके निवास एवं उसके सामने बेटे के हॉस्पिटल का कितना अतिक्रमण है सभी जानते हैं, को न तो नपवाने दिया न ही तुड़वााया।
उन्होंने आगे कहा कि सांसद जी मै तो आपकी जिम्मेदारी, कार्य की परवाह कर आपको गैर जिम्मेदार, लापरवाह और निकम्मा जैसे आरोपों से बचाना चहाता हूं, आपका बहुत बड़ा शुभचिंतक हूं पर आपके आसपास के स्वार्थ से भरे भू- लिप्सा धारी आपको गुमराह करते हुये, थाने मे एक कागज दे आये कि उपर लिखे मेरे आरोपो की जांच करें। मतलब वे क्या चाहते हैं, आप जान लो, वे आपके शुभचिंतक नही है, मैं तो पेशे से एक अधिवक्ता हूं आप जब कहोंगे तो मैं आपके कानूनी नोटिस का जवाब जरूर दूंगा, क्योंकि मैं भी आपके क्षेत्र का जवाबदार, जिम्मेदार, सर्तक, सजग नागरिक हूं, ब्राडगेज संघर्ष समिति का राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की मध्यप्रदेश इकाई का प्रदेश सचिव हूं, मप्र. उच्च न्यायालय बार कौंसिल का 1994 का पंजिकृत अधिवक्ता हूं।

शेष आपके अगले कदम अनुसार

आपका शुभचिंतक अनुपसिंह बैस,
अधिवक्ता,
राष्ट्रीय अध्यक्ष ब्राडगेज संघर्ष समिति,
प्रदेश सचिव मप्र.,
कांग्रेस वार्ड नं. 06 बालाघाट.