सुको ने कहा मंदिर की संपत्ति के मालिक देवता ही होंगे, पुजारी सिर्फ सेवक!

नमस्कार, ये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया है। अब आप साई न्यूज की समाचार श्रृंखला में सुनिये मंगलवार 07 सितंबर का प्रादेशिक ऑडियो बुलेटिन.
——–
प्रदेश में इन दिनों सूखा नशा युवाओं पर जमकर भारी दिख रहा है। सूखा नशा अर्थात पाऊडर, ड्रग्स आदि के जरिए नशा करना। प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक बार फिर से नशेड़ियों ने आतंक मचाया है। रामचंद्र नगर चौराहे से लगे वीआईपी रोड पर दो नशेड़ियों ने रात में जमकर आतंक मचाया है। पान की दुकान चलाने वाले युवक से नशेड़ियों ने 100 रुपये की मांग की थी। नहीं देने पर लोहे की रॉड और डंडे से हमला कर दिया। बदमाशों ने बचाने आए युवक को भी मारा। घायल को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। आरोपी चचेरे भाई हैं। पुलिस ने एक आरोपी को लोगों की सहायता से गिरफ्तार कर लिया है।
——–
मंदिर के नाम की संपत्ति का मालिक कौन है। इसे लेकर हमेशा असमंजस की स्थिति रहती थी। प्रबंधन के लोग और पुजारी इन संपत्तियों पर दावा करते थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि मंदिर के नाम की संपत्ति के मालिक देवता ही होंगे। पुजारी और प्रबंधन समिति के लोग सेवक ही रहेंगे। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने यह भी आदेश दिया है कि भू राजस्व रेकॉर्ड से पुजारियों के नाम हटाए जाएं।
सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के ऐतिहासिक फैसले का हवाला देते हुए मध्य प्रदेश के एक मंदिर के मामले में यह फैसला सुनाया है। कोर्ट ने अपने फैसले में स्पष्ट किया है कि देवता ही मंदिर से जुड़ी भूमि के मालिक हैं। पुजारी केवल इन संपत्तियों के रखरखाव के लिए हैं।
——–
केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के संसदीय क्षेत्र दमोह जिले में अंधविश्वास की एक घटना सामने आई है। यहां जबेरा ब्लॉक के आदिवासी बाहुल्य बनिया गाँव में बारिश न होने पर टोटका किया गया। इसमें महिलाओं ने अपने ही घर की बच्चियों को बिना कपड़ों के गाँव की गलियों में घुमाया।
महिलाओं का मानना है कि ऐसा करने से इतनी बारिश होती है कि माता की प्रतिमा का गोबर धुल जाता है। मामला सामने आने के बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने कलेक्टर एस.कृष्ण चैतन्य को नोटिस जारी करके 10 दिन के अंदर कार्यवाही के निर्देश दिए हैं। आयोग ने कलेक्टर से बच्चियों का आयु प्रमाण पत्र, जांच रिपोर्ट और अन्य दस्तावेज मांगे हैं।
——–
भोपाल की व्यस्ततम सड़क और उस पर चलती बाइक में गलबहियां करता प्रेमी जोड़ा। जी हां कुछ इसी तरह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल हो रहा ये वीडियो भोपाल का है और शहर की सबसे खूबसूरत व व्यस्ततम सड़क वीआईपी रोड का है। जिसमें प्यार में डूबा प्रेमी युगल चलती बाइक पर ही कुछ ऐसी हरकत कर बैठा जो उन्हें भारी पड़ सकती है। वीडियो वायरल होने के बाद अब ये पुलिस तक पहुंच चुका है और पुलिस प्रेमी युगल की तलाश में जुट गई है।
——–
कोरोना, डेंगू के बाद प्रदेश में खतरनाक स्क्रब टाइफस बीमारी का खतरा मंडरा रहा है। पांच जिलों रायसेन, नरसिंहपुर, सतना, दमोह और कटनी में स्क्रब टाइफस के पांच मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने एलर्ट जारी किया है। उपचार की गाइडलाइन भी जारी की गई है। चिकित्सकों के अनुसार, यह बीमारी चूहे, छछून्दर, गिलहरी आदि से फैलती है, इसलिए इनके द्वारा कुतरे गए फल या खाए गए खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए। सामान्य तौर पर चूहों में पाए जाने वाले जीवाणु ओरिएटिया सुसुगैमुशी के कारण यह बीमारी होती है।
——–
प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बाँस उद्योग स्थापित करने के लिए इस वर्ष 02 करोड़ 77 लाख 50 हजार रूपये का अनुदान प्रावधानित किया गया है। राज्य बाँस मिशन द्वारा निजि क्षेत्रों में इच्छुक हितग्राहियों से 30 सितंबर तक प्रस्ताव बुलाए गए हैं। बाँस उद्योग लगाने के लिए 10 कार्य क्षेत्र चिन्हित किये गये हैं। गत वित्तीय वर्ष में निजि क्षेत्रों के हितग्राहियों को 16 इकाईयों की मंजूरी दी जाकर 02 करोड़ 03 लाख रूपये का अनुदान उपलब्ध कराया गया।
प्रमुख रूप से बाँस के ट्रीटमेंट तथा सीजनिंग प्लांट, बाँस प्र-संस्करण केन्द्र एवं मूल्य संवर्धन इकाई, बाँस कचरा प्रबंधन, अगरबत्ती इकाई, एक्टिवेटेड़ कार्बन प्रोडक्ट, बेम्बो बोर्ड/फ्लोर टाइल्स यूनिट और हाईटेक और बिग नर्सरी के प्रोजेक्ट पर अनुदान दिया जा सकेगा।
——–
खूनी खेल के नाम से पूरे देश में मशहूर छिंदवाड़ा के पांढुर्णा का गोटमार मेला पाबंदियों के बीच आरंभ हो गया है। जाम नदी की पुलिया पर पांढुर्णा और सावरगाँव के लोग एक दूसरे पर जमकर पत्थरबाजी कर रहे हैं। वहीं, प्रशासन की समझाइश का कोई प्रभाव इनके ऊपर नहीं दिख रहा है। सोमवार को छिंदवाड़ा कलेक्टर सौरभ सुमन और पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल गोटमार की व्यवस्था देखने पांढुर्णा पहुंचे थे। उसके बाद भी प्रशासन की सख्ती बेअसर दिखाई दी।
गाँव के लोगों ने चंडी देवी की पूजा के बाद नदी में झंडा लगाया। उसके बाद दोनों तरफ से पत्थर बरसाए जाने लगे। अभी तक दो सौ के आसपास लोग घायल हो चुके हैं। घायल लोगों को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया है।
——–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चैनल पर प्रतिदिन अपलोड होने वाले वीडियो अवश्य देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य, यात्रा या समारोह आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 प्रतिशत तक सही साबित हुए हैं।
——–
राजधानी भोपाल से बिलासपुर का सफर 17 सितंबर से आसान हो जाएगा। इस दिन से भोपाल से बिलासपुर एवं वापस भोपाल स्पेशल एक्सप्रेस आरंभ हो जाएगी। यह ट्रेन बिलासपुर स्टेशन से 17 सितंबर से और भोपाल स्टेशन से 19 सितंबर से चलेगी। इस ट्रेन की क्षमता औसतन 1200 से अधिक यात्रियों की है।
——–
चेन स्नेचिंग की घटना को अंजाम देने वाले गिरोह को पकड़कर इनाम पाने के लिए मध्य प्रदेश की सतना और पन्ना जिले की पुलिस आपस में भिड़ गई। उत्तर प्रदेश के शामली के बाबरिया गैंग के सदस्यों को पकड़ने के दौरान यह स्थिति बनी। इन्होंने रीवा, सतना और पन्ना में सिलसिलेवार चेन स्नेचिंग की घटना को अंजाम दिया है। दोनों जिलों की पुलिस की ओर से जमकर धक्का-मुक्की भी की गई।
——–
इंदौर एयरपोर्ट पर मानव खोपड़ी और हड्डियां उज्जैन की एक साध्वी के बैग में मिले। बिना अनुमति के साध्वी दिल्ली की फ्लाइट पकड़ने जा रही थीं। साध्वी से सीआईएसएफ और पुलिस ने पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वे साथी साधु की अस्थियां हरिद्वार विसर्जन के लिए ले जा रहीं हैं। एयरपोर्ट प्रबंधन ने मानव खोपड़ी और अस्थियां ले जाने से रोक दिया। साध्वी दूसरी फ्लाइट से दिल्ली चली गईं। बाद में दूसरे साधु सड़क मार्ग से अस्थियां और खोपड़ी हरिद्वार ले गए।
——–
प्रदेश में सरकारी पदों पर प्रमोशन में आरक्षण के मामले में सुप्रीम कोर्ट 14 सितंबर को फैसला सुना सकता है। हाई कोर्ट ने पदोन्नति नियम में आरक्षण, बैकलॉग के खाली पदों को कैरी फॉरवर्ड करने और रोस्टर संबंधी प्रावधान को संविधान के विरुद्ध मानते हुए इन पर रोक लगा दी थी। इस निर्णय के विरूद्ध राज्य सरकार ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की थी, जिस पर फैसला बाकी है।
——–
राजगढ़ में काँग्रेस विधायक रामचन्द्र दांगी ने बिजली समस्या पर शिवराज सरकार पर निशाना साधा है। दांगी ने बिजली चोरी रोकने के लिए लगाई गई एलटी केबल को खराब बताते हुए कहा, राजीव गांधी और इंदिरा गांधी के बिजली के खुले तार अच्छे थे। दरअसल, ब्यावरा के काँग्रेस विधायक रामचन्द्र दांगी तीन दिवसीय किसान सम्मान यात्रा निकाल रहे हैं।
——–
पूर्व मंत्री और काँग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह ने कहा है की भारतीय जनता पार्टी डर की वजह से उपचुनाव नहीं करा रही है। भारतीय जनता पार्टी को पता है कि इस समय जनता में उसके विरूद्ध माहौल है। बंगाल में तो उपचुनाव की घोषणा हो गई, लेकिन डर के कारण मध्यप्रदेश में चार सीटों पर उपचुनाव नहीं कराए जा रहे हैं। चाहे प्रदेश में पंचायत चुनाव हों, चाहे निकाय चुनाव हों चाहे विधानसभा-लोकसभा के उपचुनाव हों, भारतीय जनता पार्टी के लोग चुनाव कराने से डर रहे हैं।
——–
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया की साई न्यूज की समाचार श्रृंखला में शरद खरे से मंगलवार 07 सितंबर का प्रादेशिक ऑडियो बुलेटिन। बुधवार 08 सितंबर को एक बार फिर हम ऑडियो बुलेटिन लेकर उपस्थित होंगे, आपको ये ऑडियो बुलेटिन यदि पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब अवश्य करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, जय हिन्द।
(साई फीचर्स)