भारतीय वैज्ञानिकों पर सवाल खड़े कर लोगों ने किया हवन, कहा – अब भागेगा कोरोना. . .

(ब्यूरो कार्यालय)
मुजफ्फरनगर (साई)। कोरोना का संक्रमण राज्य और देश में काफी तेजी से फैल रहा है. हर रोज लाखों लोग संक्रमित हो रहे हैं. ऐसे में एक तरफ लोग मेडिकल साइंस पर सवाल खड़े कर रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर तमाम वैज्ञानिक लगातार कोरोना का अचूक उपाय खोजने में लगे हैं. लेकिन इन तमाम स्थितियों के बीच समाज का एक तबका ऐसा भी है, जिसे लगता है कि कोरोना को हवन और पूजा-पाठ से भगाया जा सकता है.

उनका मानना है कि हवन करने से वातावरण में फैले वायरस को मारा जा सकता है. ये घटना है प्रदेश के मुजफ्फरपुर की, जहां कुछ लोगों ने कोरोना की रोकथाम के लिए शुक्रवार को हवन का आयोजन किया, ताकि कोरोना के वायरस नष्ट हो जाए. मकर संक्रांति के दिन शहर के कुंडल इलाके में स्थानीय लोगों द्वारा कोरोना भगाने के लिए हवन की गई ताकि कोरोना महामारी से निजात मिल सके.

हवन कर रहे एक स्थानीय शख्स दीपक सहनी का मानना है कि बीते करीब दो सालों से देश कोरोना की चपेट में है. लेकिन साइंस बीमारी पर काबू नहीं पा सका है. सभी वैज्ञानिक फेल हैं. अब यदि विज्ञान इसमें असफल हो रहा है तो हमे अपने पुराने पद्धति की ओर ही लौटना होगा, जिसके तहत हम लोग पहले भी महामारी के समय हवन करके अपने वातावरण को शुद्ध करके महामारी को दूर करते थे.