मण्डी पर रार पहुँची निर्णायक मोड़ पर

 

 

सोमवार से पुरानी थोक सब्जी मण्डी में नहीं होगा कारोबार!

(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। कृषि उपज मण्डी के अंतर्गत काम करने वाली थोक सब्जी मण्डी के स्थानांतरण पर बना गतिरोध सोमवार की सुबह समाप्त हो सकता है। प्रशासन अब इस मामले में सख्ती करने की मंशा रखता दिख रहा है। रविवार को भी पुरानी सब्जी मण्डी क्षेत्र में गहमागहमी का वातावरण बना रहा।

कृषि उपज मण्डी के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि रविवार को अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के कार्यालय में अधिकारियों की बैठक में थोक सब्जी मण्डी को नये स्थान पर स्थानांतरित करने के लिये कड़ाई बरतने के निर्देश दिये गये हैं।

सूत्रों ने बताया कि सोमवार को सुबह पाँच बजे से ही शहर में प्रवेश के सारे रास्तों पर प्रशासन के द्वारा दलों को पाबंद किया गया है कि वे शहर में प्रवेश करने वाले सब्जी के वाहनों को चिन्हित कर उन्हें पुरानी सब्जी मण्डी के स्थान पर नयी सब्जी मण्डी भेजने की कार्यवाही करें।

सूत्रों ने बताया कि वाहनों की पहचान के लिये अधिकारियों के द्वारा यातायात पुलिस को पाबंद किया गया है। इसके अलावा नगर पालिका, कृषि उपज मण्डी सहित आधा दर्जन विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों को डूण्डा सिवनी, नगझर स्थित यातायात थाने के सामने, छिंदवाड़ा चौराहे के अलावा नगर पालिका के सामने तैनात किया गया है।

सूत्रों की मानें तो नगर पालिका के बाजू में स्थित पुरानी सब्जी मण्डी में रविवार और सोमवार की दरमियानी रात प्रवेश द्वार पर एक गेट भी लगा दिया जायेगा, जिसमें ताला बंद कर दिया जायेगा। प्रशासन के द्वारा लगभग तीन चार दिन सख्ती से कार्यवाही करते हुए पुरानी सब्जी मण्डी में खरीद फरोख्त को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया जायेगा।

सूत्रों ने बताया कि प्रशासन के द्वारा यह व्यवस्था भी करवायी जा रही है कि अगर किसी व्यापारी के द्वारा पुरानी सब्जी मण्डी (जहाँ अब नियमानुसार सब्जी का क्रय – विक्रय नहीं हो सकता है) में जबरन सब्जी बेचने का प्रयास किया गया तो उसका लाईसेंस निरस्त कर दिया जायेगा। इसके अलावा अगर किसी वाहन को जबरन ही यहाँ प्रवेश करवाने का प्रयास हुआ तो वाहन का पंजीयन भी निरस्त होने की कार्यवाही हो सकती है।

बुधवारी तालाब होता आया है प्रदूषित : ज्ञातव्य है कि पुरानी सब्जी मण्डी दरअसल, बुधवारी तालाब के मुहाने पर बनी हुई है। यहाँ व्यापारियों के द्वारा सब्जियों को धोया जाता है जिसका गंदा पानी बुधवारी तालाब को प्रदूषित कर देता है। इसके अलावा व्यापारियों के द्वारा बची हुई सड़ी गली सब्जियों को भी तालाब में फेंक दिया जाता है जिससे तालाब से सदा ही सड़ांध उठती रहती है।

मटन मार्केट को भी कराया जाये बाहर : लोगों का कहना है कि बुधवारी तालाब के दूसरे सिरे पर स्थित माँस और मछली की दुकानों को भी शहर के बाहर स्थानांतरित किया जाना चाहिये। इसके लिये करोड़ों की लागत से एक भवन का निर्माण हो चुका है पर यहाँ व्यापारी जाना नहीं चाह रहे हैं।

इसके पहले जिलाधिकारी कलेक्टर प्रवीण सिंह के द्वारा नयी मण्डी का निरीक्षण कर वहाँ के हालातों का जायजा लिया गया। इसके बाद संपन्न हुई बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व हर्ष सिंह, प्रभारी मुख्य नगर पालिका अधिकारी गजेंद्र पांडे, तहसीलदार प्रभात मिश्रा, मण्डी सचिव एस.के. परते, नगर कोतवाल अरविंद जैन, यातायात प्रभारी और संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में निर्णय लिया गया कि सोमवार 18 मार्च से नगर पालिका सिवनी के पास संचालित पुरानी थोक सब्जी मण्डी में किसी प्रकार की सब्जी का विक्रय नहीं किया जायेगा।

3 thoughts on “मण्डी पर रार पहुँची निर्णायक मोड़ पर

  1. Pingback: dump shop
  2. Pingback: lace front wigs

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *