सिवनी में आरटीओ का काम है बंद!

 

 

होली पर जमकर मलाई काटी प्राईवेट बस ऑपरेर्टस ने!

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। होली के अवसर पर नागपुर, जबलपुर, भोपाल, रायपुर आदि से आने वाले यात्रियों पर प्राईवेट बस ऑपरेटर्स ने जमकर जुल्म ढाया। होली पर नागपुर से सिवनी का किराया 250 रूपये से 900 रूपये तक वसूला गया।

इस संबंध में जब क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी क्षितिज सोनी से चर्चा की गयी तो समाचार एजेंसी ऑॅफ इंडिया से उन्होंने कहा कि इस संबंध में नागपुर के आरटीओ से शिकायत की जाये। नागपुर आरटीओ इस संबंध में कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में वे छिंदवाड़ा में ड्यूटी पर हैं इसलिये सिवनी में कार्यवाही नहीं कर पायेंगे! इस लिहाज से यही प्रतीत हो रहा है कि सिवनी के आरटीओ की ड्यूटी अगर किसी अन्य जिले में लगा दी जाये तो सिवनी में आरटीओ कार्यालय काम बंद कर देता है!

ज्ञातव्य है कि देश के साथ जिले मेें भी होली का त्यौहार आज मनाया जा रहा है। होली के अवसर पर दूसरी जगहों में काम करने वाले लोग और मजदूर वापस अपने घरों की ओर लौट रहे हैं। त्यौहार पर यात्रियों की भारी भीड़ को देखते हुए बस ऑपरेटर्स इन दिनों मुसाफिरों से कई गुना ज्यादा मनमाना किराया वसूल कर रहे हैं। वहीं इस मामले में एआरटीओ सिवनी का कहना है कि वे ंिछदवाड़ा में हैं इसलिये जिले की यातायात व्यवस्था का निरीक्षण नहीं कर सकते।

डेढ़ सौ की बजाये हजार रुपये तक वसूली : नागपुर से सिवनी तक का किराया एक सौ तीस रुपये है। आम दिनों में बस ऑपरेटर मुसाफिरों से 130 से 150 तक किराया वसूलते हैं लेकिन होली के मद्देनजर घर वापस लौटने वाले लोगों से इन दिनों नौ सौ से लेकर एक हजार रुपये तक लिये जा रहे हैं।

यहाँ यह उल्लेखनीय होगा कि यात्रा के लिये इन दिनों कई एप उपलब्ध हैं। इन एप्स में बस ऑपरेटर ऑनलाईन कई गुना किराया लोगों से वसूल रहे हैं। इसके साथ ही एक बस में क्षमता से काफी ज्यादा 70 से 80 तक मुसाफिर बैठाये जा रहे हैं।

ंिछंदवाड़ा में साहब नहीं होगी कार्यवाही : इस मामले में एआरटीओ सिवनी क्षितिज सोनी का कहना है कि वे शासकीय कार्य के चलते छिंदवाड़ा में हैं जिसके कारण वे सिवनी में वाहनों की जाँच नहीं कर सकते। उनका कहना है कि इस संबंध में कई लोगों के फोन उनके पास आये हैं। उनसे जब कहा गया कि बाकी का स्टाफ वहाँ होगा उससे जाँच करा ली जाये तो श्री सोनी का कहना था कि उन्होंने नागपुर आरटीओ से बात की है वहाँ पर जाँच की जायेगी।

वापिसी में फिर होगी परेशानी : त्यौहारों के मौसम में बस ऑपरेटर जिले में लगे मेगा ब्लॉक का फायदा उठाते हैं। न सिर्फ नागपुर बल्कि जबलपुर, मण्डला, बालाघाट और दूसरे रूटों पर भी मुसाफिरों से अवैध रूप से कई गुना ज्यादा किराया वसूला जा रहा है। होली के बाद लोग फिर अपने – अपने गंतव्य को वापस लौटेंगे ऐसे में आने वाले दो-तीन दिनों तक कई गुना ज्यादा किराया वसूला जायेगा। मुसाफिरों ने विभाग से इस संबंध में राहत के लिये कार्यवाही की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *