हुआ इंद्रधनुष का पुर्नगठन

 

———————

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिले की 07 महत्वपूर्ण विधाओं की प्रतिभाओं और उनकी कला को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से सप्त रंगीय संस्था इंद्रधनुष का पुर्नगठन किया गया है। नवगठित इस संस्था के संयोजक राजेन्द्र नेमा क्षितिज हैं, जबकि सह संयोजक शैलेन्द्र गौर हैं।

संस्था का अध्यक्ष सुनील नाहर, उपाध्यक्ष डॉ.दिनेश शर्मा, डॉ.गजेन्द्र डहरवाल एवं हेमकांत गढ़ेवाल, सचिव दिनेश लुथरा को बनाया गया है, जबकि विशेष आमंत्रित सदस्यों में यूसुफ राज और मसूद आतिश नियुक्त किये गये हैं। कोषाध्यक्ष पृथ्वीश नंदन (पप्पू) शर्मा को बनाया गया है।

संस्था के प्रचार मंत्री मगन श्रीवास्तव के द्वारा दी गयी जानकारी में बताया गया है कि संस्था के द्वारा साहित्य, संगीत, शिल्पकला, चित्रकला, मूर्तिकला के अलावा लोक संस्कृति और नृत्य विधा से जुड़ी प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने और उन्हें सामने लाने के उद्देश्य से संस्था के द्वारा समय – समय पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा, ताकि छुपी हुई प्रतिभाएं सामने आ सकें और विलुप्त हो रही जिले की लोक संस्कृति आज की युवा पीढ़ी के लिये आकर्षण का केन्द्र बन सके।