चोरी के वाहन सहित दो आये पुलिस के शिकंजे में

(अपराध ब्यूरो)
सिवनी (साई)। चुनावों के दौरान कोतवाली पुलिस एलर्ट मोड में दिख रही है। नगर कोतवाल अरविंद जैन के द्वारा रात में खुद सड़कों पर उतरकर वाहनों की चैकिंग की जा रही है।
कोतवाली पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार के निर्देशन में रात के समय वाहनों की सघन जाँच के दौरान नगर कोतवाल अरविंद जैन, सहायक उप निरीक्षक प्रमोद भारद्वाज, आरक्षक विपिन सरेठा एवं प्रशांत के द्वारा एक संदिग्ध वाहन को देखा गया।
सूत्रों का कहना था कि क्वॉलिस वाहन क्रमाँक एमएच 31 एजी 8595 बस स्टैण्ड से दलसागर के मुहाने से होकर भैरौगंज जाने वाले मार्ग पर हनुमान मंदिर के पास खड़ा हुआ था। इस वाहन से दो युवकों के द्वारा स्टेपनी और साउंड सिस्टम निकाला जा रहा था।
सूत्रों ने बताया कि पुलिस के द्वारा वहाँ मौजूद तीन युवकों से पूछताछ की गयी। इन युवकों के द्वारा अपना परिचय लखनवाड़ा निवासी मोहम्मद ताहिर पिता शफीक खान, हथनापुर थाना लखनवाड़ा निवासी रविंद्र पिता हरि प्रसाद डेहरिया, एवं कुरई थाने के टुरिया ग्राम निवासी अजय सेन पिता रामजी सेन के रूप में दिया गया।
सूत्रों की मानें तो इन युवकों से जब कड़ाई से पूछताछ की गयी तो उन्होंने बताया कि इनके द्वारा टुरिया ग्राम से एक मैरून रंग का क्वॉलिस वाहन क्रमाँक एमएच 31 एजी 8595 को चुराकर बेचने के उद्देश्य से उसे जबलपुर ले जाया जा रहा था। रास्ते में डीजल कम होने और पास में पैसे नहीं होने के कारण, इनके द्वारा वाहन की स्टेपनी और डेक को बेचने की योजना बनायी गयी थी ताकि वाहन में डीजल भरवाया जा सके।
पुलिस के द्वारा दो आरोपियों को पकड़ लिया गया और तीसरा आरोपी अजय सेन मौके से फरार हो गया। पुलिस के द्वारा आरोपियों के विरूद्ध धारा 41 (1) (4) सीआरपीसी, 379 आईपीसी के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है। चोरी का वाहन दिलीप पिता रमेश मेश्राम निवासी टुरिया का बताया गया है, जिनके द्वारा कुरई थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवायी गयी थी।

2 thoughts on “चोरी के वाहन सहित दो आये पुलिस के शिकंजे में

  1. Pingback: bitcoin loophole
  2. Pingback: Regression Testing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *