इंदिरा को इस तरह डराते थे राहुल

 

 

 

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)

पुणे (साई)। लोकसभा चुनाव से पहले महाराष्ट्र के पुणे में छात्रों के साथ संवाद करने पहुंचे कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कार्यक्रम में अपनी बचपन से जुड़ी यादें साझा कीं। इस दौरान उन्होंने अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा को अपना बेस्ट फ्रेंड कहा, तो वहीं दूसरी ओर यह भी बताया कि दादी इंदिरा गांधी को वह कैसे डराया करते थे।

राहुल गांधी ने अपनी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के साथ बिताए पलों को साझा करते हुए बताया, ‘मैं अपनी दादी (इंदिरा गांधी) के कमरे में लगे पर्दे के पीछे छिप जाता था और जैसे ही वह आती थीं तो उन्हें डराता था।राहुल बताते हैं, ‘लेकिन उन्हें पता चल जाता था कि मैं कमरे में हूं और वह सिर्फ डरने का नाटक करती थीं।

वहीं बहन प्रियंका गांधी के बारे में उन्होंने बताया कि बचपन में दोनों के बीच थोड़ी बहुत लड़ाई होती थी लेकिन अब ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा, ‘मैं जब छोटा था तो मैंने अपनी दादी और पिता की हत्या के रूप में हिंसा देखी थी।

उन्होंने आगे कहा, ‘मेरी बहन मेरी बेस्ट फ्रेंड है और हम एक-दूसरे को बखूबी समझते हैं। अगर जहां कहीं बहस की स्थिति होती है तो कभी वह पीछे हट जाती है तो कहीं मैं। हम दोनों हमेशा साथ रहे हैं।राहुल ने बताया कि वह रक्षाबंधन के त्योहार में अपने हाथ में तब तक राखी बांधे रहते हैं जब तक कि वह अपने आप टूटकर अलग न हो जाए। राहुल ने बताया कि राजनीति को अलविदा कहने के लिए नेताओं के लिए 60 साल की उम्र सही है।