महंगी शिक्षा के खिलाफ विचार क्रांति का आगाज़ आज से

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। बाबा साहब डॉ.अंबेडकर ने स्कूली शिक्षा को निःशुल्क प्रदाय करने के लिये संविधान में कानून बनाये हैं, लेकिन सरकारी स्कूलों से मिलने वाली निःशुल्क शिक्षा को वर्तमान में बर्बाद कर दिया गया है। अब प्राईवेट स्कूलों की अच्छी शिक्षा के नाम पर लूटपाट से आम जनता त्रस्त है।

अंबेडकर जयंति समारोह से रविदास शिक्षा मिशन सिवनी द्वारा महंगी शिक्षा के खिलाफ विचार क्रांति अभियान प्रारंभ किया जायेगा। उक्ताशय की जानकारी देते हुए रविदास शिक्षा मिशन के अध्यक्ष रघुवीर अहरवाल ने बताया कि संविधान के तहत दी जाने वाली निःशुल्क शिक्षा पर प्रकाश डालने रविदास शिक्षा मंदिर मंगलीपेठ द्वारा डॉ.अंबेडकर जयंति समारोह का दो दिवसीय आयोजन किया गया है।

उन्होंने बताया कि इसमें रविवार 14 अप्रैल को बेला चौक मंगलीपेठ से दोपहर 02 बजे से शोभा यात्रा प्रारंभ होकर नगर भ्रमण करते हुए वापस शाम 06 बजे वापस आयोजन स्थल पहुँचेगी। सोमवार 15 अप्रैल को दोपहर 02 बजे से डॉ.अंबेडकर भवन में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया है।

उन्होंने बताया कि उक्त कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बाबूलाल बट्टी, कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ.एल.के. देशभरतार एवं उद्धाटक बी.एल. कुमरे होंगे। विशिष्ट अतिथियों में परमानंद डेहरिया, एम.एल. गडकरी एवं एस.एन. डेहरिया को आमंत्रित किया गया है। विशेष अतिथियों में गोप सिंह चौधरी, एडव्होकेट मनोज कनौजिया, एन.के. धुर्वे, श्रीमति किरण प्रकाश बुर्डे, पंजूलाल चौधरी, कैलाश महोबिया, संतु सतनामी, मस्तराम चौधरी, ज्ञानी लाल अहरवाल, अरविंद बाघ्या, दीपचंद उईके का समावेश है। मुख्य वक्ता सतीश चौधरी होंगे।

रविदास शिक्षा मिशन के अध्यक्ष रघुवीर अहरवाल ने आम जनता से महंगी शिक्षा के खिलाफ सहयोग प्रदान करने, बाबा साहब डॉ.अंबेडकर जयंति समारोह में शामिल होने के अपील की है।