मुनमुन ने खोया आपा, दी काँग्रेस नेता को गालियां!

 

 

रिपोर्ट दर्ज कराने कोतवाली पहुँचे काँग्रेसी नेता आवेदन देकर लौटे वापस!

(अखिलेश दुबे)

सिवनी (साई)। गर्मी के तीखे तेवरों के साथ ही साथ सियासी पारा भी उछाल पर आता दिख रहा है। सोमवार को एक निजि चैनल के डिबेट कार्यक्रम के दौरान भारतीय जनता पार्टी के सिवनी विधायक दिनेश राय मुनमुन और युवा काँग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी के बीच हुई बहस ने रौद्र रूप ले लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एक निजि चैनल के द्वारा उपनगरीय क्षेत्र लूघरवाड़ा के एक निजि होटल में एक डिबेट का आयोजन सोमवार की शाम किया गया था। इस डिबेट का प्रसारण मंगलवार को किया जाना था। इस डिबेट में काँग्रेस, भाजपा के नेताओं के साथ ही साथ अन्य लोग भी आमंत्रित किये गये थे।

बताया जाता है कि इसी दौरान आनंद पंजवानी के द्वारा भाजपा विधायक दिनेश राय को इंगित करते हुए कहा गया कि उनके द्वारा छिंदवाड़ा में काँग्रेस के प्रत्याशी नकुल नाथ को भावी सांसद कह दिया गया है। इसके बाद दिनेश राय और आनंद पंजवानी के बीच विवाद आरंभ हो गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार भाजपा विधायक दिनेश राय के द्वारा इस कार्यक्रम के बीच में ही आनंद पंजवानी को अपशब्द कहे जाने लगे। दिनेश राय प्रथम पंक्ति में बैठे थे और आनंद पंजवानी दूसरी पंक्ति में। दिनेश राय ताव में आनंद पंजवानी की ओर उठकर जाने लगे। वहाँ उपस्थित लोगों के द्वारा दोनों के बीच में जाकर मामला शांत करने का प्रयास किया गया।

इधर, दिनेश राय के द्वारा किये गये इस बर्ताव से आहत होकर जिला काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज कुमार खुराना, नगर काँग्रेस अध्यक्ष इमरान पटेल सहित काँग्रेस के अनेक वरिष्ठ नेता इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराने की गरज से कोतवाली जा पहुँचे। देखते ही देखते कोतवाली में काँग्रेस के नेताओं का हुजूम जमा हो गया।

मौके पर उपस्थित नगर कोतवाल अरविंद जैन के द्वारा मामले को सुनने के बाद इसकी लिखित शिकायत किये जाने की बात कही गयी। इसी बीच जिला काँग्रेस अध्यक्ष राज कुमार खुराना के द्वारा जिला पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार से मोबाईल पर इस मामले की जानकारी दिये जाने के साथ ही प्राथमिकी दर्ज कराने की बात कही गयी।

राज कुमार खुराना ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के द्वारा उनसे यह कहा गया कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराने के लिये वे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खाण्डेल को कोतवाली भेज रहे हैं। कुछ देर बाद गोपाल खाण्डेल कोतवाली पहुँचे और उनके साथ काँग्रेस के नेताओं ने चर्चा की।

बताया जाता है कि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खाण्डेल के द्वारा इस मामले में कोतवाली पुलिस के द्वारा लिये गये आवेदन पर जाँच करने के बाद ही किसी तरह की प्राथमिकी दर्ज करने की बात कही गयी, किन्तु जिला काँग्रेस अध्यक्ष सहित समस्त काँग्रेसी प्राथमिकी दर्ज कराने की बात पर अड़े रहे।

इसी दौरान काँग्रेस के वरिष्ठ नेता राजा बघेल के द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खाण्डेल से कहा गया कि वर्तमान में आचार संहिता लागू है और इस दौरान प्रशासन किसी दल की बात सुनने की बजाय चुनाव आयोग के कर्मचारी की हैसियत से निष्पक्ष रूप से काम करता है, इसलिये इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होना चाहिये।

इधर, कोतवाली पुलिस को दिये गये आवेदन में युवा काँग्रेस अध्यक्ष आनंद पंजवानी ने कहा है कि वे एक निजि चैनल के कार्यक्रम में शामिल होने गये थे। इसी दौरान सभी के द्वारा अपनी – अपनी बात रखी जा रही थी। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा किये गये प्रश्नों पर भाजपा विधायक दिनेश राय मुनमुन उत्तेजित हो गये।

उन्होंने अपने आवेदन में कहा है कि इसी दौरान भाजपा विधायक दिनेश राय उनकी ओर मारने के लिये लपके और उन्हें गंदी – गंदी गालियां देने लगे। उन्होंने यह आरोप भी लगाया है कि भाजपा विधायक दिनेश राय ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी है। उन्होंने सिवनी विधायक दिनेश राय से जान का खतरा भी बताया है।

आवेदन में उन्होंने यह भी बताया कि इस दौरान गवाह के रूप में मौके पर राज कुमार खुराना, राजा बघेल, दादू निखिलेंद्र नाथ सिंह, शाहिद खान, जेम्स फ्रेंकलिन आदि भी मौजूद थे। उन्होंने इसकी एफआईआर दर्ज कराने की माँग अपने आवेदन में की है।

बताया जाता है कि काफी देर तक कोतवाली में एफआईआर की रास्ता देख रहे काँग्रेस के नेताओं को अंत में बिना प्राथमिकी दर्ज कराये ही थाने से वापस लौटना पड़ा। पुलिस का कहना था कि आवेदन की जाँच के बाद ही इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की जायेगी। इस मामले की शिकायत काँग्रेस के नेताओं के द्वारा चुनाव आयोग से कर दी गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *