एम परिवहन एप के बाद डीएल की जरूरत नहीं!

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

ग्वालियर (साई)। अब आपको अपने वाहन के रजिस्ट्रेशन डाक्यूमेंट और ड्राईविंग लाईसेंस साथ रखने की जरूरत नहीं होगी। चैकिंग के दौरान आपको केवल मोबाईल दिखाना होगा। जी हाँ, अब एम परिवहन मोबाईल एप, आपकी गाड़ी के सभी दस्तावेज और ड्राईविंग लाईसेंस को सम्हाल कर रखेगा।

परिवहन विभाग के सूत्रों ने बताया कि मोबाईल एप में क्यूआर कोड दिया होगा, जिसे स्कैन करते ही पुलिस पूरे दस्तावेज देख सकती है। सरकार अधिसूचना जारी कर चुकी है जिसके तहत पुलिस और आरटीओ की चैकिंग के दौरान मान्य होगा। नेशनल इंफॉर्मेटिक्स सेंटर ने एम परिवहन एप तैयार किया है।

पूरे देश में मान्य होगा एप : इस एप के माध्यम से अपनी गाड़ी के दस्तावेज और ड्राईविंग लाईसेंस को पूरे देश में कहीं पर भी रोके जाने पर दिखा सकते हैं। एम परिवहन एप ऐसी एप्लीकेशन है जिसके क्विक रिस्पॉन्स कोड पर प्रपत्रों और लाईसेंस का नंबर फीड होगा। इसके बाद गाड़ी के कागजात संबंधी सभी विवरण ऑनस्क्रीन नजर आयेगा।

ऐसे करें डाउनलोड : इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें अपनी गाड़ी का नंबर डालें। आपके मोबाईल स्क्रीन पर गाड़ी की पूरी जानकारी आ जायेगी। इसमें पंजीकरण की ऑप्शन होगा। इसमें गाड़ी का इंजन और चेचिस नंबर के अंतिम चार अंक डालने होंगे। इसके बाद क्यूआर कोड जेनरेट हो जायेगा।

पंजीकरण नवीनीकरण का एलर्ट : अब ड्राईविंग लाईसेंस या फिर गाड़ी पंजीकरण नवीनीकरण की तारीख के बारे में एसएमएस के जरिये जानकारी मिलेगी। जिस तारीख पर आपका लाईसेंस या फिर वाहन का रजिस्ट्रेशन एक्सपायर हो रहा होगा उससे सात दिन पहले आपके पास एक एसमएस पहुँच जायेगा।

एप के फायदे : इसमें गायब हुई, चोरी गयी या दुर्घटना ग्रस्त वाहनों की पूरी जानकारी मिलेगी। कार का पंजीकरण सत्यापित किया जा सकता है। यदि पुराना वाहन खरीदते हैं तो उसकी पूरी जानकारी मिल जायेगी। यहाँ किसी भी प्रकार की शिकायत की जा सकती है। नजदीक का आरटीओ ऑफिस पता कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *