माफी माँगने का दबाव बना रहे सीएमएचओ!

 

 

अशोक गौवंशी ने सीएस को की शिकायत में लगाये आरोप

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच और संविदा कर्मचारी अशोक गौवंशी के बीच हुए वाद विवाद को स्वास्थ्य महकमे के अधिकारी ही हवा देते नजर आ रहे हैं। सीएमएचओ कार्यालय में इस प्रकरण की चर्चाएं चटखारे लेकर हो रही हैं।

सीएमएचओ कार्यालय के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि केंद्र पोषित योजनाओं की मद में आने वाले अनाप शनाप आवंटन के बल पर स्वास्थ्य अधिकारियों के द्वारा जिला प्रशासन के आला अधिकारियों को शीशे में उतारने का प्रयास किया जाता है।

सूत्रों का कहना है कि इसके पहले तत्कालीन जिला कलेक्टर धनराजू एस. की एक निजि पार्टी में शराब, शराब से सजी टेबिल और अधिकारियों के फोटो को वायरल किसी और ने नहीं वरन तत्कालीन प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वस्थ्य अधिकारी डॉ.राजेंद्र कुमार श्रीवास्तव के द्वारा किया गया था। अब जिला कलेक्टर के साथ हुए वाद विवाद पर शो कॉज नोटिस में इस विवाद का जिक्र करके वर्ममान प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.के.सी. मेश्राम के द्वारा नया संकट उत्पन्न कर दिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि अब अगर अशोक गौवंशी के द्वारा इसकी शिकायत किसी आयोग में कर दी जाती है तो वाद विवाद वाले शो कॉज नोटिस का सहारा लेकर अशोक गोवंशी के द्वारा अपना पक्ष तो वहाँ दर्ज कराया जा सकेगा लेकिन इस मामले में बयान के लिये जिला कलेक्टर को भी जाना होगा।

सूत्रों ने आगे बताया कि इस मामले में अशोक गौवंशी के द्वारा मुख्य सचिव को की गयी शिकायत में इस बात का उल्लेख किया गया है कि जिला कलेक्टर के इशारे पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.के.सी. मेश्राम के द्वारा उन पर यह दबाव बनाया जा रहा है कि वे (अशोक गौवंशी) जिला कलेक्टर से माफी माँग लें ताकि बात को समाप्त किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *