गले में दर्द और खराश से हैं परेशान तो करें ये उपाय

 

 

 

 

 

बदलते मौसम में अक्सर बीमारियों का संक्रमण बढ़ जाता है। सर्दी, जुकाम, सिर दर्द और गले में खराश की समस्या होने लगती है।

ऐसी स्थिती में काम में मन नहीं लगता और शरीर में थकान महसूस होती है। कई बार दवा खाने से बुखार ठीक हो जाता है लेकिन गले की खराश ठीक होने में समय लगता है। गले में खराश और दर्द होने पर गुनगुने पानी में नमक डाल कर गरारे करने से ठीक हो जाता है।

अदरक, लौंग, मुलेठी शहद लगाकर चूसते रहने से लाभ होता है। मुलेठी को चूसने से खांसी और कण्ठ रोग भी दूर होते हैं। सूखी खांसी में कफ पैदा करने के लिये इसकी 01 चम्मच मात्रा को मधु के साथ दिन में 03 बार चटाना चाहिये। एक अनुमान के मुताबिक लगातार तीन दिन तक सुबह और रात को सोते समय ऐसा करने से चमत्कारिक लाभ मिलता है।

गले में खराश और दर्द का लक्षण : निगलने व बोलते समय दर्द का बढ़ना, खराश होना, निगलने में कठिनाई, गला सूखना, गर्दन और जबड़े की ग्रंथियों में सूजन व दर्द, टॉन्सिल में सूजन और लाल होना, कर्कश या धीमी आवाज आना।

इन घरेलू उपाय का करें सेवन : मौसम बदलने पर होने वाली गले की खराश से परेशान हैं, तो ऐसे में काली मिर्च का सेवन करना फायदेमंद रहेगा। रात को सोने से पहले बताशे में काली मिर्च को रखकर चबाएं या काली मिर्च, मिश्री को चबा-चबाकर खाने से गले की खराश में राहत मिलती है।

हल्दी में एंटी बेक्टीरियल और एंटीबायोटिक गुण प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। इसलिये गर्म दूध में हल्दी को मिलाकर पीने से गले की खराश कुछ ही दिनों में जड़ से खत्म हो जाती है और आप राहत महसूस करते हैं।

नमक के गरारे करने से भी फायदा मिलता है क्योंकि नमक में एंटी बेक्टीरियल गुण होते हैं, तो वहीं गुनगुने पानी से गले की अंदरूनी रूप से सिंकाई होती है। इससे तेजी से गले की खराश में आराम मिलता है।

मुलहेठी चूसने से गले से जुड़ी सभी समस्याएं कुछ ही समय में दूर हो जाती हैं। मुलहेठी चूसने से गले की खराश के साथ आपकी आवाज सुरीला और मीठा बनाने का काम करती है।

अगर कई दिनों से गले में खराश या गले में दर्द की दिक्कत महसूस कर रहे हैं, तो तुलसी, लौंग, काली मिर्च, अदरक वाली चाय यानि हर्बल टी पीना बेहद फायदेमंद रहेगा। तुलसी, लौंग, काली मिर्च, अदरक प्राकृतिक रूप से तासीर से गर्म और एंटी बेक्टीरियल होती हैं। इससे गले में मौजूद इंफेक्शन वाले बेक्टीरिया को खत्म करने में मदद मिलती है।

(साई फीचर्स)