जब जाना हो पिकनिक पर तो ध्यान रखें ये बातें

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। बच्चों के एग्जाम खत्म हो चुक हैं। ऐसे में परिवार के साथ आउटिंग के प्रोग्राम बनने आरंभ हो जाते हैं। यदि आप भी अपनी फैमिली के साथ पिकनिक पर जाने की तैयारी कर रहीं हैं तो पहली जिम्मेदारी है कि खाने में ऐसा क्या ले जायें कि वह देर तक खराब न हो।

यहाँ हमारे एक्सपर्ट सजेस्ट कर रहे हैं कि किस तरह का खाना पिकनिक पर अपने अपनों को पसंद आयेगा और ज्यादा देर तक काम आयेगा।

पास्ता-नूडल्स को कहें न : पिकनिक पर पास्ता या नूडल्स ले जाने की सोच रहे हैं तो आईडिया तुरंत बदल लें। यह खाना पिकनिक पर सूट नहीं करेगा। इसके अलावा हरी शिमला मिर्च किसी भी सब्जी या चावल में शामिल हो, तो वह उसका स्वाद बिगाड़ सकती है। पकने के बाद इसे डिब्बा बंद किया जाये, तो यह कड़वी लगने लगती है। भरवां टमाटर स्वाद में भी अच्छे लगते हैं और पेट के लिये भी ठीक रहते हैं। सब्जी में भी टमाटरों का ही इस्तेमाल करें।

ऐसे तैयार करें सलाद : पिकनिक पर ले जाने वाले डब्बों में रायता या गाजर का सलाद गलत चुनाव हो सकता है, क्योंकि रायता गर्मी पाकर खाने का स्वाद बिगाड़ सकता है। वहीं पकी हुई गाजर भी प्लास्टिक के डिब्बे में नर्म पड़ जाती है। यदि किसी खाने की रेसिपी में गाजर डालना जरूरी है तो उसे अधपका रखें ताकि गाजर डिश का स्वाद न बिगाड़े।

गर्निशिंग की जरूरत नही : घर पर खाना परोसते समय गार्निंश करना आम है लेकिन डब्बा बंद खाने के लिये धनिये की गार्निंशिंग से बचें। गर्म भाप से धनिया नर्म व बेस्वाद हो जाती हैं। चाहें तो एक छोटे से डब्बे में ढेर सारा बारीक कटा धनिया भरकर ले जायें और वहाँ जाकर सजावट करें।

कच्चे प्याज का इस्तेमाल नहीं : सलाद, चाट, भेल, छोले जैसी चीजों में कच्चे प्याज की जरूरत होती है लेकिन इसे गार्निंश करके न ले जायें। प्लास्टिक के डब्बे में कच्चे प्याज की भाप बन जाती है जो खाने में भी अजीब सी महक फैला देती है। जरूरी हो, तो पिकनिक स्थल पर चाकू व प्याज लेकर जायें और वहीं काटें।