गौरव को दी फंसाने की धमकी!

 

 

नागरिक मोर्चा देगा जल समस्या को लेकर ज्ञापन

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जल समस्या को लेकर आम सभा की अनुमति माँगने पर गौरव जायसवाल को फर्जी मामले में फंसाने की धमकी दी गयी है।

नागरिक मोर्चा द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार नागरिक मोर्चा पिछले कई दिनों से सिवनी शहर में पेय जल संकट को लेकर आवाज़ उठा रहा है। सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से चलायी गयी इस मुहीम के चलते सिवनी के अलग – अलग इलाकों में व्याप्त जल संकट मीडिया एवं अन्य माध्यमों में चर्चा का विषय बना।

विज्ञप्ति के अनुसार नागरिक मोर्चा द्वारा अपनी इस मुहीम में सिवनी के सर्वाधिक जल संकट वाले इलाकों में जाकर जनता से चर्चा की गयी एवं इन क्षेत्रों को रेड जोन की तरह मैप भी किया गया है। इस मैप को भी नगर पालिका एवं जिला कलेक्टर को देकर इन क्षेत्रों में पानी की समस्या के निराकरण की अपील की जायेगी।

नागरिक मोर्चा की विज्ञप्ति के अनुसार जनता जल संकट से बेहद त्रस्त है, पानी के लिये कई क्षेत्रों में त्राहि त्राहि मची हुई है। टैंकरों के इंतज़ार में दिन – दिन भर लोग बैठे रहते हैं। इसी लिये नागरिक मोर्चा द्वारा 03 जून को दोपहर 12 बजे नगर पालिका को ज्ञापन सौंपकर जल समस्या के पूर्ण निराकरण के लिये सभा की अनुमति के लिये आवेदन किया गया तो नागरिक मोर्चा के गौरव जायस्वाल को सिवनी थाने में फर्जी मामले में फंसाने की धमकी देते हुए चुप बैठने के लिये कहा गया।

विज्ञप्ति के अनुसार नागरिक मोर्चा द्वारा 31 मई को एस.डी.एम. कार्यालय में एक आवेदन देकर जल समस्या के विषय मंे आम सभा की अनुमति माँगी गयी जो थाने में अभिमत के लिये भेजी गयी। इस पर 01 जून को थाने में पदस्थ एक सिपाही ने नागरिक मोर्चा के सदस्य को सूचित किया कि इस विषय में वे नगर निरीक्षक से बात कर लें।

विज्ञप्ति के अनुसार जब शाम 06 बजे नागरिक मोर्चा के सदस्य गौरव जायसवाल कोतवाली में नगर निरीक्षक से मिलने पहुँचे तो पहले नगर निरीक्षक श्री जैन ने कहा कि त्यौहारों का समय है इसलिये सभा की अनुमति नहीं दी जा सकती है। विज्ञप्ति में गौरव जायसवाल ने आरोप लगाया कि पुलिस के द्वारा उन्हें धमकाया भी गया।