बच्ची के साथ दुष्कर्म होता दिखा तो अब पुलिस आरोपी को गोली मार देगी

 

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। दुष्कर्म जैसी जघन्य अपराध अक्सर छिपकर होती हैं। लेकिन अब आप यह मानकर चलिए कि यदि इस तरह का अपराध पुलिस को सामने होता दिखा तो गोली चलेगी। इस तरह की कार्रवाई को कानून के दायरे में रहकर अंजाम दिया जाएगा। आम जनता के साथ पुलिस का अभद्र व्यवहार कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बच्चियों, महिलाओं से संबंधित अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से जागरुकता मुहिम चलाएगी।

यह बात मंगलवार को आईजी भोपाल रेंज योगेश देशमुख ने संवाददाताओं से चर्चा में कही। इस अवसर पर डीआईजी इरशाद वली,एसपी(हैडक्वार्टर) मिथिलेश शुक्ला,एसपी(नार्थ) शैलेंद्रसिंह चौहान,एसपी(साउथ) संपत उपाध्याय भी मौजूद थे। कमलानगर इलाके में दुष्कर्म के बाद 10 साल की बच्ची की हत्या के मामले में आईजी ने स्वीकार किया कि पीड़ित परिजनों के प्रति कुछ पुलिसकर्मियों का व्यवहार ठीक नहीं था। उन्हें सस्पेंड किया गया है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है। दोषी पाए जाने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि बच्चियों से दुष्कर्म जघन्य अपराध है। यदि पुलिस को इस तरह का अपराध होता हुआ दिखा,तो पुलिस आरोपी पर गोली चलाने में देर नहीं करेगी। इस तरह की कार्रवाई को कानून के दायरे में रहकर अंजाम दिया जाएगा।

कॉलोनी का इंजार्च बनाए जाएंगे

आईजी ने बताया कि शहर की इस तरह की कॉलोनियों को चिन्हित किया गया है। जहां महिलाओं से संबंधित अपराध अधिक होते हैं। ऐसी बस्तियों में संबंधित थाने के एक पुलिसकर्मी को बस्ती का इंचार्ज बनाया जाएगा। साथ ही पुलिस सामाजिक संगठनों के सहयोग से महिलाओं,बच्चियों को सुरक्षा के प्रति जागरूक भी करेगी। स्कूल,कॉलेजों,कोचिंग सेंटर पर जाकर भी सुरक्षा के टिप्स दिए जाएंगे।

जनता का भरोसा

आईजी ने कहा कि जनता का भरोसा जीतना पुलिस की प्राथमिकता होगी। ऐसे पुलिसकर्मचारी जिनमें संवेदनशीलता की कमी है,उन्हें ट्रैनिंग दी जाएगी। अपराध रोकने के लिए जनसहयोग की अपील करते हुए आईजी देशमुख ने कहा कि पुलिस हमेशा जनता के प्रति निष्ठा में कमी नहीं आने देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *