डूब क्षेत्र के ग्रामीणों ने अपनी मांग को लेकर रखा उपवास

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

किंदरई (साई)। विकासखण्ड घंसौर अंतर्गत ग्राम पंचायत धूमामाल के ग्रामवासियों ने सोमवार को सरदार सरोवर के डूब क्षेत्र के हजारों विस्थापित पुनर्वास के लिए अपनी मांगों के लिए उपवास किए एवं नर्मदा नदी में उपवास तोड़े।

ग्रामवासियों ने सोमवार को दिन भर उपवास रहकर नर्मदा नदी के तट स्थित छिंदवाहा के छटा घाट पर सभी ग्रामवासी एकत्रित होकर बरगी बांध के अंतर्गत आए डूब प्रभावित क्षेत्र के 162 गांवों आते हैं। उन ग्रामवासियों को बरगी डेमवासियों ने छह एकड़ जमीन, रहने के लिए मकान देने को कहा था लेकिन तक नहीं मिला है।

ग्राम धूमामाल के सरपंच ने बताया कि मेघा पाटकर सरदार सरोवर में भूख हड़ताल पर बैठी हैं। विस्थापितों को शासन-प्रशासन की गई घोषणाओं का समुचित लाभ मिले इसके लिए वे संघर्षरत हैं। इसलिए डूब क्षेत्र के ग्रामवासी मेघा पाटकर के समर्थन में एक दिन के उपवास पर हैं। ग्राम पीपरटोला किंदरई निवासी ठाकुर सिंह उइके ने बताया कि जन आंदोलन के तहत बरगी बांध से विस्थापित ग्रामवासी शासन के विरोध में मां नर्मदा नदी तट स्थित उपवास पर हैं।

ग्राम धूमामाल, बखारी, छिंदवाहा, पिपरटोला सहित अन्य गांव के ग्रामवासियों में में ग्राम के सरपंच गन्नाराम मरावी, जनपद सदस्य पति लोकेश मरकाम, अंजेलाल उइके, उपसरपंच सोनू बरकड़े, सुखचैन बरकड़े, राम सिंह उईके, ठाकुर सिंह उईके, शहद उइके, सीताराम मरावी, पन्नालाल तेकाम, पुन्नूलाल तेकाम, सुंनालाल उइके, अध्धेलाल उइके, इंदल सिंह वरकड़े, बब्बू लाल मरकाम, मुन्ना उइके, बसूरी मरावी, बालसिंह तिलगांव, राममिलन उईके, मोहन सरोते, मंगल सिंह मरकाम, उजियार मरकाम, बबलू उइके महुआ, सीताराम उइके, कलेश मरकाम आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *