जल्दी ही ‘गुलशन कुमार’ के किरदार में नजर आएंगे आमिर

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

मुंबई (साई)। आमिर खान को मिस्टर परफेक्शनिस्टएक खास वजह से कहा जाता है। अभिनेता आमिर खान आधे मन से कोई काम नहीं करते। वह एक समय पर एक ही फिल्म में काम करना पसंद करते हैं। हालांकि इसका यह मतलब नहीं है कि जब वह एक फिल्म की शूटिंग कर रहे होते हैं, तो बाकी फिल्मों के काम की एकदम सुध नहीं लेते। आमिर से एक रोचक बातचीत:

फिल्म मुगलमें आपकी वापसी पर बहुत कुछ कहा जा रहा है। इस पर आप क्या कहेंगे?

अगर आपको याद हो, पिछले साल अक्तूबर में मैंने ट्वीट किया था कि मैं इस फिल्म का हिस्सा नहीं रहूंगा। पर अब मैंने तय किया है कि मैं इसका हिस्सा बनूंगा। अब मैं इससे दोबारा जुड़ गया हूं।

आप मी टूअभियान के समर्थक रहे हैं। क्या आपके इस कदम से गलत संदेश नहीं जाएगा?

मैं मी टूअभियान का पूरी तरह समर्थन करता हूं। जिन महिलाओं ने कभी इस किस्म के शोषण का सामना किया है, उन सभी से मेरी अपील है कि आईसीसी इंटर्नल कम्प्लेंट्स कमेटीमें शिकायत करें। हर संस्थान में यह कमेटी होती है। इस मामले की बात करूं, तो यह कार्यस्थल पर शोषण का मामला नहीं था, लिहाजा, आईसीसी इसकी जांच नहीं कर सकती थी।

क्या आपको यह डर है कि सुभाष कपूर के साथ काम करने पर लोग आपकी आलोचना करेंगे? इसका सामना करने के लिए आपने कोई रणनीति बनाई है?

मैं वही करता हूं, जो मेरा दिल कहता है। जब मुझे लगा था कि मुझे इस फिल्म का हिस्सा नहीं होना चाहिए, तो मैं पीछे हट गया था। अब मुझे ऐसा नहीं लग रहा। हो सकता है कुछ लोग मेरी आलोचना करें। पर मेरे लिए सबसे जरूरी अपनी खुद की नजरों में सही होना है।

क्या इससे आपके और गुलशन कुमार के बेटे भूषण कुमार के रिश्तों में कोई फर्क पड़ा था?

वह मेरे निर्णय से खुश नहीं थे। यह फिल्म उनके पिता के बारे में है। इससे वह भावनात्मक रूप से जुड़े हैं। लिहाजा यह स्वाभाविक ही था कि वह फिल्म से मेरे हट जाने पर दुखी हुए थे।

गुलशन कुमार की भूमिका कौन निभा रहा है?

यह किरदार मैं निभा रहा हूं। फिल्म से जुड़े बाकी के किरदार सुभाषजी चुनेंगे।

आप इस फिल्म से कैसे जुड़े

दरअसल जब भूषण जी मेरे पास इस फिल्म का प्रस्ताव लेकर आए थे, तो मैंने उनसे कहा था कि मुझे नहीं लगता कि मैं इस किरदार को निभाने के लिए सही हूं। यह सुनकर उन्हें निराशा हुई। उन्होंने मुझे इसका निर्माता बनने के लिए कहा। वह चाहते थे कि मैं किसी न किसी तरह इससे जुड़ूं। मुझे इसकी स्क्रिप्ट बहुत पसंद आई थी। यही वजह है कि मैंने उनकी बात मान ली। जब मैं इस फिल्म से बतौर निर्माता जुड़ गया, तो मैंने कहा कि चलो, फिल्म के कलाकारों पर बात करते हैं। मैं चाहता था कि मुख्य किरदार अक्षय कुमार निभाएं। मैं उनसे मिला, पर बात नहीं बनी। इसके बाद मैंने वरुण धवन से संपर्क किया, पर वह बेहद व्यस्त थे। आखिर हारकर मैंने ही भूषण के कहने पर वह रोल स्वीकार कर लिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *