आकण्ठ भ्रष्टाचार में डूबी ग्राम पंचायत!

 

 

शिकायतों के बाद भी कार्यवाही सिफर!

(ब्यूरो कार्यालय)

लखनादौन (साई)। जनपद पंचायत लखनादौन के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत खखरिया में सरपंच और सचिव की मनमानियों से ग्रामीण आज़िज आ चुके हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि सरपंच और सचिव के द्वारा सरकारी योजनाओं में जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है।

ग्रामीणों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि ग्राम पंचायत खखरिया के रोजगार सहायक और प्रभारी सचिव ज्वार ंिसंह साहू एवं सरपंच रामदास इरपाचे की मिली भगत से सरकारी योजनाओं में जमकर भ्रष्टाचार किया गया है।

ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत में ग्रामीणों और खिलाड़ियों के द्वारा वर्ष 2016 – 2017 में आपस में चंदा किया जाकर हाई स्कूल के मैदान का समतलीकरण किया गया था। इसके उपरांत सरपंच और प्रभारी सचिव के द्वारा फर्जी कागजात के जरिये लगभग चार लाख रूपये की राशि का आहरण कर लिया गया।

ग्रामीणों की मानें तो इसी तरह ग्राम पंचायत छाता और गोटी टोला में स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनने वाले शौचालयों के निर्माण में भी सरपंच और सचिव के द्वारा ग्यारह लाख चौदह हजार 913 रूपये की राशि का आहरण कर लिया गया है, जबकि अब तक ग्राम में एक भी शौचालय का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है।

इसी तरह 14वें वित्त आयोग की राशि से इसी साल 25 मार्च को नयी पाईप लाईन, मोटर पंप, टंकी आदि की मद में एक लाख 63 हजार 800 रूपये की राशि का भुगतान लक्ष्मी इलेक्ट्रीकल्स एण्ड इलेक्ट्रानिक्स को कर दिया गया है, जबकि बताया जाता है कि इस मद में किसी तरह की सामग्री को खरीदा ही नहीं गया है।

ग्रामीणों की मानें तो ग्राम खखरिया में विधायक निधि से 01 लाख 20 हजार रूपये की राशि रंगमंच के लिये स्वीकृत की गयी थी उक्त राशि का आहरण कर लिया गया हैं जबकि आज तक रंगमंच का निर्माण कार्य अधूरा ही है। इसके अलावा वर्ष 2015 – 2016 में मनरेगा योजना से खखरिया ग्राम से गोटी टोला ग्राम तक जाने वाली मिटटी मुरम सड़क का कार्य कराया गया था।

इस सड़क पर मजदूरी कार्य करने वाले लगभग 50 मजदूरों का मजदूरी भुगतान आज तक नहीं किया गया, लेकिन ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक एवं प्रभारी सचिव एवं सरपंच अपने चहेते और परिवार के सदस्यों की फर्जी उपस्थिति दर्शाकर मजदूरी भुगतान कर दिया गया है।

(क्रमशः जारी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *