06 को जरूर करें ये 08 काम

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। गुड़ी पड़वा आठ अप्रैल को है। इसी दिन हिन्दु कैलेण्डर आरंभ होता है, यानि नया साल आरंभ होता है। महाराष्ट्र में इस दिन को गुड़ी पड़वा कहा जाता है। कई लोग जानना चाहते हैं कि गुड़ी पड़वा के दिन किन बातों का ख्याल रखना चाहिये और क्या करना चाहिये, जिससे भगवान जीवन में खुशहाली ला देते हैं।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार घर पर ध्वजा, पताका, तोरण, वंदनवार, फूलों आदि से सजायें और अगरबत्ती आदि से सुगंधित करें। दिन में भजन और कीर्तन जैसे धार्मिक और शुभ कार्य करते रहें, परिवार के बीच आनंदित रहें। इस सृष्टि के सभी जीवों और प्रकृति के लिये मंगल कामना करते रहें। आपके जीवन में भी मंगल ही मंगल होगा।

इसके अलावा नीम की कोपलें (हरी पत्तियां) खायें और घर के सभी लोगों को खिलायें। आप और आपका परिवार निरोगी रहेगा। ब्राह्मण को तिलक लगाकर दक्षिणा दें और जनहित में प्याऊ भी इसी दिन खोलें। आपके जीवन में हमेशा खुशियां और बरकत रहेगी। नये वर्ष का पंचांग अथवा भविष्यफल ब्राह्मण के मुख से सुनने से शुभ फल मिलने लगते हैं।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस दिन से दुर्गा सप्तशती अथवा रामायण का नौ दिनों तक पाठ करें। घर – आँगन खुशियों से भरा रहेगा। इसी दिन कटुता का भाव मिटाकर प्रेम भाव मन में रखें और घर के सभी लोगों के लिये प्रेमपूर्ण वातावरण बनायें। बाहरी लोगों से भी आपके संबंध मधुर हो जायेंगे। उन्नति देखने लायक होगी।