परीक्षण क्षेत्र में सूचना दी जाना चाहिये

मुझे शिकायत नगर पालिका के लिये काम कर रहे जल आवर्धन योजना के ठेकेदार से है जिसके द्वारा इन दिनों शायद पाईप लाईन का परीक्षण किया जा रहा है। इस परीक्षण कार्य के तरीके के चलते लोगों को असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है।

सिवनी के कई क्षेत्रों में इन दिनों अचानक ही नलों से गंदा पानी आरंभ हो जाता है जिसके कारण लोगों के घरों में गंदगी का साम्राज्य सा स्थापित हो जाता है। नल बंद होने के बाद इस गंदगी को साफ करना अत्यंत दुष्कर कार्य हो जाता है। पता करने पर जानकारी मिली कि संभवतः जल आवर्धन योजना के तहत बिछायी गयी पाईप लाईन की टेस्टिंग इन दिनों उसके ठेकेदार के द्वारा की जा रही है।

इस तरह असमय ही नलों से गंदा पानी प्रदाय करने को ठेकेदार की मनमानी ही कहा जा सकता है जिसकी छूट उक्त ठेकेदार को नहीं दी जाना चाहिये। संबंधित ठेकेदार से यह स्पष्ट रूप से कहा जाना चाहिये कि उसके द्वारा जिस भी क्षेत्र में पाईप लाईन की टेस्टिंग की जाये कम से कम उस क्षेत्र में एक सूचना किसी भी माध्यम से जारी करवा दी जाये ताकि लोग अपने घरों के नलों की टोंटी को बंद रख सकें और जिसके चलते उनके घरों में गंदगी न फैल सके।

गौरतलब होगा कि नगर पालिका के नलों से इन दिनों बिना मोटर लगाये एक बूंद भी पानी नहीं आता है इसके कारण लोग इस बारे में आश्वस्त होते हैं कि बिना मोटर चलाये नल से पानी नहीं आयेगा जिसके कारण लोगों के द्वारा अपने नलों में टोंटी बंद करने का जतन भी नहीं किया जाता है।

एकाएक गंदा और बदबूदार पानी नलों के माध्यम से लोगों के घरों में असमय भेजना समझ के परे ही है। इस पानी का कोई उपयोग नहीं रह जाता है। ऐसा पानी पीने की बात तो दूर है लोग निस्तार के लिये भी काम में नहीं ला पाते हैं। बावजूद इसके गंदा और बदबूदार पानी भेजकर लोगों के घरों में ठेकेदार के द्वारा तब गंदगी फैलायी जा रही है जबकि त्यौहार का सीजन चल रहा है और इस दौरान लोग अपने-अपने घरों में अतिरिक्त साफ-सफाई को सबसे ज्यादा वरीयता देते हैं। संबंधितों से अपेक्षा है कि वे जल आवर्धन योजना के ठेकेदार को मनमानी करने से रोकेंगे ताकि लोगों में आक्रोश न पनप सके।

अरूण विश्वकर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *