बादलों से लग रही उमस भरी गर्मी

 

 

तीन चार दिनों बाद फिर बन सकते हैं आंधी तूफान के आसार!

(महेश रावलानी)

सिवनी (साई)। राजस्थान के ऊपर बना वेदर सिस्टम अब कमजोर पड़ चुका है। इसके फलस्वरूप सिवनी सहित प्रदेश में मौसम धीरे – धीरे साफ होता दिख रहा है। हाल ही में आंधी तूफान के साथ हुई बारिश से पारे के कस बल भी ढीले पड़े हैं, पर उमस भरी गर्मी ने लोगोें को हलाकान कर रखा है।

मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि पिछले दिनों पश्चिमी राजस्थान पर बना प्रेरित कम दबाव का क्षेत्र कमजोर पड़कर उत्तर पूर्वी राजस्थान की तरफ खिसक गया है। इसके अलावा दक्षिण पूर्वी राजस्थान पर भी एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।

सूत्रों ने आगे कहा कि इस सिस्टम के असर से प्रदेश के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में कहीं – कहीं गरज चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ने की संभावना है।

सूत्रों का कहना है कि वातावरण में नमी कम होने से अब मौसम साफ होने लगा है। इस वजह से तापमान भी बढ़ने आरंभ कर देगा। उधर, एक पश्चिमी विक्षोभ के 22 अप्रैल को उत्तर भारत में दखल देने के संकेत मिले हैं। उसके प्रभाव से एक बार फिर प्रदेश के कुछ स्थानों पर तेज हवाएं चलने के साथ ही बौछारें पड़ने की स्थिति बन सकती है।

इधर भू अभिलेख से राकेश विश्वकर्मा ने सिवनी के अधिकृत तापमान की जानकारी देते हुए बताया कि शुक्रवार 19 अप्रैल की शाम को पिछले 24 घण्टों का अधिकतम तापमान 37.4 डिग्री सेल्सियस तो ब्रहस्पतिवार और शुक्रवार की दरमियानी रात में न्यूनतम तापमान 17.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सूत्रों ने मौसम के पूर्वानुमान के हिसाब से बताया कि शनिवार को दिन में अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस और रात में न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *