जंगलों में आबाद हैं ईंट के अवैध भट्टे

 

 

(फैयाज खान)

छपारा (साई)। जनपद पंचायत छपारा के अंतर्गत जंगलों में अवैध रूप से संचालित होने वार्ले ईंट के भट्टों के जरिये शासन को लाखों रूपयों की क्षति पहुँचायी जा रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्र में चल रहे ईंट के भट्टों के लिये जंगलों से न केवल मिट्टी का अवैध उत्खनन किया जा रहा है वरन बेशकीमति वन संपदा को भी नुकसान पहुँचाया जा रहा है। इन ईंट के भट्टों में ईंट पकाने के लिये वन विभाग की नजरें बचाकर जंगलों से लकड़ी काटी जा रही है।

बताया जाता है कि सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा कर ईंट भट्टों की संस्थापना करायी जा रही है। वहीं सिंचाई विभाग की सांठ गांठ से डूब क्षेत्र की मिट्टी को ट्रैक्टर ट्रॉली के जरिये खोदा जा रहा है। इस मिट्टी का उपयोर्ग ईंट बनाने के लिये किया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के लालमाटी क्षेत्र के जंगल के किनारे, ग्राम जामुनपानी, लुड़गी, सालीवाड़ा, डांगावानी, भीमगढ़ आदि ऐसे कई ग्रामों में ईंट बनायी जा रही जिसमें कई टन जंगल की लकड़ियां एवं मिट्टी उत्खनन कर ईंट के भट्टों में इस्तेमाल किया जा रहा है।