बालिका अभिभावक सम्मान समारोह संपन्न

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

छपारा (साई)। एकीकृत बाल विकास परियोजना के अंतर्गत सोमवार 10 फरवरी को बालिका अभिभावक सम्मान समारोह का आयोजन जनपद पंचायत के सभागार में किया गया जिसमे बड़ी संख्या में नगर सहित जनपद क्षेत्र के लोग शामिल हुए।

ज्ञातव्य है कि प्रदेश शासन महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में नगर के जनपद पंचायत के सभाकक्ष में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अंतर्गत कार्यक्रम के आयोजन में उन अभिभावकों का सम्मान पत्र दिया गया जिन्होंने सिर्फ बेटियां होने पर भी परिवार नियोजन अपनाया है।

उक्त कार्यक्रम में जिले से आये महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक संचालक अभिजीत पचौरी की अध्यक्षता में किया गया। उन्होंने सभी उपस्थित बच्चियों के माता पिता को संबोधित करते हुए सवप्रथम सभी अभिभावकों को बधाई दी कि लड़का और लड़की में अंतर न करते हुए सभी ने लड़कियों को स्वीकार किया।

उन्होंने इसके साथ ही आगे कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, बेटी हैं तो कल है यह सिर्फ स्लोगन या सिर्फ नारे नहीं हैं। इनको अपने मानव जीवन में प्रत्येक व्यक्ति को इसको समझना और इसको आत्मसात करना चाहिये तब ही यह स्लोगनों सार्थक है। शासन के द्वारा संचालित योजना तो कई हैं लेकिन जब तक लोग जागरूक नहीं होंगे बेटे और बेटियों में अंतर करेंगे तो ऐसी सभी योजना कागज में सिमटकर रह जायेंगी।

उन्होंने जिले में गिरते हुए लिंगानुपात के विषय में विस्तार पूर्वक जानकारी दी और लोगों से अपील भी करते हुए कहा कि लिंग परीक्षण करवाना गैर कानूनी हैं जिसमंे सजा का प्रावधान हैं, अतः सभ्य समाज को इससे बचना चाहिये।

उक्त कार्यक्रम में उपस्थिति अभिभावकों ने अपनी बेटियों के माता पिता होने पर गर्व महसूस होना बताया और समाज को संदेश दिया कि बेटियां अनमोल होती हैं, बेटियां वरदान हं, इन्हें अभिशाप न समझंे एवं इनका सम्मान करें, इनके उज्ज्वल भविष्य के लिये कार्य करें, क्योंकि बेटी है, तो कल है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *