पीके ने कांग्रेस को बताया कमजोर!

(ब्‍यूरो कार्यालय)
नई दिल्‍ली (साई)। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और कांग्रेस पार्टी के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। दो महीने पहले ही यह कयास लगाए जा रहे थे कि प्रशांत किशोर को कांग्रेस में बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने की तैयारी हो रही है लेकिन ऐसा लगता है कि ये तैयारियां पूरी नहीं हो सकीं।

पहले प्रशांत किशोर ने लखीमपुर खीरी हिंसा के बहाने कांग्रेस पर निशाना साधा और अब छत्तीसगढ़ के सीएम और पार्टी के वरिष्ठ नेता भूपेश बघेल ने पीके पर पलटवार किया है। बघेल ने प्रशांत किशोर के बयान का जवाब देते हुए बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा है और नंदीग्राम में हुई उनकी हार याद दिलाई है।
दरअसल, प्रशांत किशोर ने गुरुवार सुबह एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में पीके ने कहा कि जिन लोगों को लगता है कि लखीमपुर कांड की वजह से कांग्रेस की अगुवाई में विपक्ष त्वरित वापसी करेगा, वह गलतफहमी में हैं। पीके ने यह भी लिखा कि दुर्भाग्य से ग्रैंड ओल्ड पार्टी की गहरी समस्याओं और ढांचागत कमजोरियों को दूर करने के लिए कोई तात्कालिक समाधान नहीं है।

अब छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल ने पलटवार करते हुए लिखा है, ‘जो लोग अपनी सीट भी नहीं जीत सकते हैं, कांग्रेसी नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल कर के राष्ट्रीय स्तर पर विकल्प बनाने की सोच रहे हैं, उन्हें बड़ी निराशा हुई है।’ सीएम बघेल यहीं नहीं रुके। उन्होंने आगे लिखा, ‘दुर्भाग्य से, एक राष्ट्रीय विकल्प बनने के लिए गहरे और ठोस प्रयासों की आवश्यकता है। इसका कोई तात्कालिक समाधान नहीं है।’