फग्गन सिंह कुलस्ते फिर बने सांसद

 

 

राकेश पाल की मेहनत लायी रंग, पचास हजार की मिली लीड

(अय्यूब कुरैशी)

सिवनी (साई)। पूर्व केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के स्टिंग ऑपरेशन के बाद भी उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए मण्डला संसदीय क्षेत्र से विजयश्री का वरण किया है। जिले में लखनादौन विधान सभा में भाजपा 1100 वोट से पिछड़ी तो केवलारी विधान सभा क्षेत्र में विधायक राकेश पाल सिंह की मेहनत के चलते भाजपा को लगभग 52 हजार की बढ़त मिली है।

बालाघाट संसदीय क्षेत्र से फग्गन सिंह कुलस्ते को ईवीएम के जरिये कुल 07 लाख 35 हजार 365 एवं पोस्टल वोट 1901 को मिलाकर कुल 07 लाख 37 हजार 266 (48.59 फीसदी) मत मिले हैं। उनके निकटतम प्रतिद्वंदी काँग्रेस के कमल सिंह मरावी को 06 लाख 38 हजार 372 मत ईवीएम से तो 1220 पोस्टल मत मिलाकर कुल 06 लाख 39 हजार 592 मत (42.15 फीसदी) मिले हैं। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के दादा राम गुलाम उईके को 48 हजार 782 एवं 143 पोस्टल वोट मिलाकर कुल (03.22 फीसदी) मत मिले। वहीं भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के चंद्र सिंह कुसराम को 15 हजार 707 एवं दो पोस्टल वोट मिलाकर कुल 15 हजार 709 (01.04 फीसदी) मत मिले हैं।

सिवनी जिले के केवलारी विधान सभा क्षेत्र के युवा तुर्क विधायक राकेश पाल सिंह के द्वारा क्षेत्र में चुनाव के दौरान लगातार किये गये जनसंपर्क के चलते केवलारी विधान सभा क्षेत्र से भाजपा 51 हजार 904 मतों से विजयी रही। इस विधान सभा क्षेत्र में कमल सिंह मरावी को 63 हजार 19 मत मिले जबकि भाजपा के फग्गन सिंह कुलस्ते को 01 लाख 14 हजार 923 मत प्राप्त हुए। गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के दादा राम गुलाम को 10 हजार 319 मत यहाँ मिले। इस विधान सभा क्षेत्र से फग्गन सिंह कुलस्ते को 51 हजार 904 मतों से लीड मिली है।

मण्डला संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले लखनादौन विधान सभा क्षेत्र में फग्गन सिंह कुलस्ते की बजाय काँग्रेस के कमल मरावी को लीड मिली है। लखनादौन विधान सभा से काँग्रेस के कमल मरावी को 93 हजार 939 मत के मुकाबले भाजपा के फग्गन सिंह कुलस्ते को 92 हजार 833 मत ही मिल पाये हैं। यहाँ फग्गन सिंह कुलस्ते 1106 मतों से पीछे रहे। इस विधान सभा में गोंडवाना को 13 हजार 767 मत मिले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *