ट्रक में बैठकर गये थे डकैती डालने!

 

 

वारदात के बाद हुए ट्रक से ही फरार!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। बण्डोल थानांतर्गत फोरलेन पर स्थित पाल पेट्रोल पंप पर 14 मई को तड़के डाली गयी डकैती के लिये डकैतों ने वारदात के लिये मौके पर पहुँचने के लिये ट्रक का सहारा लिया था और वारदात के बाद वे उसी ट्रक से फरार होने में सफल हो गये थे। एक आरोपी को पकड़ने के बाद बाकी चार आरोपियों को पकड़ने में बण्डोल पुलिस के हाथ फूलते नज़र आ रहे हैं।

बण्डोल पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस डकैती के मामले में बण्डोल पुलिस के द्वारा कोई खास पहल नहीं की गयी थी। इस डकैती में आरोपी तक पहुँचने के लिये पुलिस के सायबर सेल की अहम भूमिका रही है। वारदात के समय घटना स्थल के आसपास सक्रिय मोबाईल नंबर्स की कॉल डिटेल रिकार्ड खंगालने के बाद पुलिस के हत्थे एक आरोपी चढ़ा है।

सूत्रों का कहना है कि पुलिस के द्वारा संदिग्ध मोबाईल नंबर्स की लोकेशन लगातार सर्च की गयी। आरोपी 08 मई को सिवनी आये थे। इसके बाद वे घंसौर के रास्ते मण्डला चले गये थे। वारदात की रात वे वापस आये और उन्होंने वारदात को अंजाम दिया था।

सूत्रों ने बताया कि पकड़े गये आरोपी के द्वारा पुलिस को वारदात के संबंध में विस्तार से बताया गया। सूत्रों की मानें तो आरोपी के द्वारा बताया गया कि वे पहले सिवनी आये और फिर पेट्रोल पंप की रैकी करने के बाद ट्रक लेकर मण्डला चले गये थे। मण्डला से वे घटना की रात वापस लौटे थे।

सूत्रों ने बताया कि आरोपी का कहना है कि इस डकैती में पाँच (जिनमें से तीन सीसीटीवी कैमरे की जद में आये थे) आरोपी थे। इनमें से चार आरोपी डकैती को अंजाम देने पंप के पास गये और पाँचवा आरोपी पंप के पास ही ट्रक लेकर खड़ा था। जैसे ही आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया और पीछे से भागे वैसे ही पाँचवे आरोपी ने ट्रक चालू कर, उसके द्वारा कुछ दूर तक धीरे – धीरे ले जाया गया, जहाँ ये चारों आरोपी ट्रक में सवार होकर फरार हो गये।

सूत्रों ने बताया कि बण्डोल पुलिस को पूरी जानकारी दिये जाने पर बण्डोल पुलिस का एक दल आरोपियों की पतासाजी के लिये धार गया था। धार में जब पुलिस को यह पता चला कि एक आरोपी के पिता वहाँ पटवारी हैं तो पुलिस महज़ एक ही आरोपी को लेकर वापस आ गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *