डॉ.परतेती हैं नशे के आदी : सीएमएचओ!

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। लखनादौन में पदस्थ वरिष्ठ चिकित्सक डॉ.जे.पी.एस. परतेती नशे के आदी हैं, उन्हें हमने भी कई बार समझाया है पर वे मानते ही नहीं हैं। उक्ताशय की बात मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.के.सी. मेश्राम ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कही।

दरअसल, बुधवार को लखनादौन में हुए विवाद के बाद वास्तविक स्थिति की जानकारी लेने के लिये समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा बार – बार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.के.सी. मेश्राम से संपर्क करने का प्रयास किया गया किन्तु उनका मोबाईल नहीं लग पाया।

इसके बाद जब अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अंकुर मेश्राम से इस मामले में विस्तार से जानकारी चाही गयी और कहा गया कि सीएमएचओ का फोन नहीं लग पा रहा है तो उन्होंने तत्काल ही अपना मोबाईल सीएमएचओ डॉ.के.सी. मेश्राम को थमा दिया और जानकारी देने की बात कही।

सीएमएचओ डॉ.मेश्राम ने बताया कि बीती रात सर्पदंश से र्हुइं मौतों के बाद जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के निर्देश पर वे और जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अधिकारी डॉ.एम.एस. धर्डे जाँच के लिये गये हुए थे। उन्होंने बताया कि रात को कॉल ड्यूटी पर डॉ.वीथी जैन थीं, पर वे अस्पताल नहीं पहुँचीं।

डॉ.मेश्राम ने बताया कि डॉ.वीथी जैन का कहना था कि उनके वाहन में पेट्रोल नहीं था इसलिये वे रात को अस्पताल नहीं पहुँच पायीं। उन्होंने कहा कि नियमानुसार रात या दिन में कॉल ड्यूटी पर चिकित्सक अपने ही वाहन और साधन से आते हैं इसके लिये पृथक से वाहन की व्यवस्था नहीं है।

डॉ.मेश्राम ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा के दौरान कहा कि डॉ.परतेती शराब के आदी हैं। उनसे जब यह पूछा गया कि अगर डॉ.परतेती शराब के आदी हैं तो बतौर स्वास्थ्य विभाग के जिले के मुखिया डॉ.मेश्राम ने उनके खिलाफ क्या कदम उठाया? इस पर उन्होंने कहा कि उनके द्वारा डॉ.परतेती को बार – बार समझाया गया है, वे उनकी (डॉ.मेश्राम की) उम्र के हैं।

उनसे जब यह पूछा गया कि वे इस मामले में बतौर सीएमएचओ क्या कार्यवाही करेंगे! सीएमएचओ का कहना था कि वे जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के निर्देश पर लखनादौन गये हैं, इसलिये वे जाँच कर रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप देंगे इसके बाद जिलाधिकारी ही निर्णय लेंगे कि इस मामले में क्या कार्यवाही की जाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *