क्या आप जानते हैं केला खाने के फायदे

 

 

केला इस समय बाजार में उपलब्ध सबसे अधिक पौष्टिक फलों में से एक है। यह पौष्टिक होने के साथ ऊर्जा का महत्वपूर्ण स्रोत है। केले में ऐसे अनेक गुण हैं जो हमारी सेहत के लिए उपयोगी हैं और हमारे स्वस्थ्य शरीर के लिए आवश्यक है। आइए जानते हैं केले के महत्वपूर्ण गुण: शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान करने में केला सहायक होता है। इसमें ग्लूकोज की अधिकता होती है। इसके अलावा केले में कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, लोहा और तांबा भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। वजन बढ़ाने में भी केला उपयोगी है। प्रतिदिन दूध के साथ दो केले का सेवन करने से वजन बढ़ता है।

आयुर्वेद के अनुसार पका केला शीतल, पुष्टिकर, मांसवर्धक, भूख, प्यास, नेत्र रोगों तथा प्रमेह को नष्ट करता है। जबकि कच्चा केला पाचन के लिए भारी, वायु, कफ और कब्ज पैदा करने वाला होता है। दिमागी सेहत के लिए भी केला बहुत फायदेमंद होता है। यह एक पौष्टिक और दिमागी क्षमता बढ़ाने वाला आहार है।

शरीर में रक्त निर्माण और रक्त को शुद्ध करने के लिए भी केला फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद लोहा, तांबा और मैग्नीशियम रक्त निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। आंतों में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर या दस्त, पेचिश एवं संग्रहणी रोगों में दही के साथ केले का सेवन करने से फायदा होता है।

चोट या खरोंच आने पर केले का छिलका उस स्थान पर बांधने से सूजन नहीं होती। इसके नियमित सेवन से आतों की सूजन भी खत्म हो जाती है। पीलिया के इलाज में भी केले का प्रयोग किया जाता है। इसके लिए केले को बगैर छीले, भीगा चूना लगाकर रातभर ओस में रखा जाता है, और सुबह छीलकर खाया जाता है। इसे खाने से पीलिया दूर हो जाता है। यह प्रयोग एक से तीन सप्ताह तक नियमित रूप से करना चाहिए।

पके हुए केले को काटकर, चीनी के साथ मिलाकर बर्तन में बंद कर के रख दें। इसके बाद इस बर्तन को गर्म पानी में डालकर गर्म करें। इस प्रकार बनाए गए शर्बत से, खांसी की समस्या खत्म हो जाती है। गर्मी के मौसम में नकसीर फूटने की समस्या होने पर एक पका केला शक्कर मिले दूध के साथ नियमित रूप से खाने पर सप्ताह भर में लाभ होता है। इससे नकसीर आना बंद हो जाता है।

(साई फीचर्स)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *