समाज को बुद्धिजीवी एवं साहित्यकारों के समूह की आवश्यकत

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। समाज मे आज बुद्धिजीवियों, साहित्यकारों के ऐसे समूह की प्रबल आवश्यकता है जो प्रशासन, शासन और जनता के बीच सेतु के रूप अपनी भूमिका का सफलतापूर्वक निर्वाह कर जनसमस्याओं का उचित निराकरण करवाकर सुशासन की स्थापना में अपना वास्तविक योगदान दें।

उक्ताशय के उदगार मध्यप्रदेश राष्ट्र भाषा प्रचार समिति हिन्दी भवन भोपाल के अध्यक्ष सेवानिवृत्त आई.ए.एस. सुखदेव प्रसाद दुबे ने 5 नवंबर 2019 को मध्यप्रदेश राष्ट्र भाषा प्रचार समिति जिला इकाई सिवनी एवं सामाजिक कल्याण एवं विधिक जन चेतना समिति सिवनी द्वारा आयोजित दीपावली मिलन, सौजन्य भेंट, परिचर्चा कार्यक्रम ष्प्रेम सभागारष्शहीद वार्ड कटंगी रोड सिवनी में व्यक्त किये।

समिति द्वारा दुबे का पुष्प हार, शाल, श्रीफल से सम्मान किया गया। कार्यक्रम का प्रारंभ माता सरस्वती के पूजन के साथ करते हुए समिति संयोजक एडवोकेट अखिलेश यादव ने आयोजन की भूमिका प्रस्तुत कर संचालन किया।

कार्य्क्रम में संरक्षक डा. रामकुमार चतुर्वेदी, रामभुवन सिंह ठाकुर, जगदीश तपिस, रमेश श्रीवास्तव चातक, जवाहर लाल राय, नरेंद्र अग्रवाल, श्रीमती मीना जैसवाल, सुरेन्द्र नायडू, दादू अखिलेश सिंह श्रीवास्तव, श्रीमति प्रतिमा अखिलेश सिंह, जगदीश प्रसाद मालवीय, रोहित शर्मा, दीपक पटले, ब्रजमोहन मरावी, रामसा सल्लाम, प्रकाश नाथ, सोनू बघेल, शुभम राजपूत, मोनू यादव, दुर्गेश डेहरिया, शुभम शर्मा, अखिलेश सनोडिया, राजेश सनोडिया, कु. निधि संघवी, श्रीमति सरिता यादव, देवी सिंह निर्मलकर ने अपने विचार व्यक्त किये। युवा कवि अक्षय दुबे भारतीय ने अपनी ओजमयी रचना तथा पत्रकार, साहित्यकार, कवि संजय जैन संजू ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया।