12 जुलाई का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन पढ़िए

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में रविवार 12 जुलाई का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन, अब आप शरद खरे से समाचार सुनिए.
—–
राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बागी तेवरों के कारण जयपुर से लेकर दिल्ली तक सियासी पारा चढ़ा हुआ है। सचिन पायलट दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं और उनके साथ 23 से 24 विधायक बताए जा रहे हैं। उनकी कोशिश कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात की है, सचिन पायलट और नाराज विधायक दिल्ली में सोनिया गांधी से मिलने की कवायद में जुटे हैं। पायलट ने पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से मुलाकात की है। जयपुर में सीएम अशोक गहलोत का शनिवार रात से ही विधायकों, नेताओं के साथ बैठकों का सिलसिला जारी है। अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच जारी खींचतान अब आर-पार की लड़ाई में तब्दील हो गयी लग रही है। अब मामला राज्य के स्तर से ऊपर जा चुका है और अगर आलाकमान ने समय रहते प्रभावी हस्तक्षेप नहीं किया तो राज्य कांग्रेस में जारी यह सत्ता संघर्ष पार्टी के लिए महंगा पड़ सकता है। दूसरी तरफ बीजेपी ने पूरे घटनाक्रम को कांग्रेस की अंदरूनी खींचतान बताते हुए उसमें अपनी किसी भी भूमिका से इनकार किया है। पार्टी फिलहाल देखो और इंतजार करो की नीति अपना रही है।
वैसे तो 2018 में गहलोत सरकार बनने के बाद से ही जब-तब मुख्यफमंत्री और उप मुख्यजमंत्री में अनबन की खबरें छनकर आती रही हैं। हालांकि, इस बार की खींचतान कितनी गंभीर है, इसका अंदाजा कांग्रेस के सीनियर लीडर कपिल सिब्बल के ट्वीट से लगाया जा सकता है। उन्होंने चिंता जाहिर करते हुए आगाह किया है कि क्या पार्टी तभी जागेगी जब अस्तबल से उसके घोड़े खोल लिए जाएंगे।
सचिन पायलट दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। बताया जा रहा है कि गहलोत सरकार अस्थिर करने के मामले में बयान दर्ज कराने के लिए खुद को मिले पुलिस के नोटिस से उनकी नाराजगी और बढ़ गई है। हालांकि, यह नोटिस मुख्यमंत्री गहलोत को भी मिला है। यह भी अपने आप में अनोखा मामला है कि किसी राज्य की पुलिस बयान दर्ज कराने के लिए मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को नोटिस दे। नोटिस को लेकर पायलट खेमे को लग रहा है कि मुख्यमंत्री अब पुलिस को टूल के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं।
—–
मध्य प्रदेश के रीवा से बीजेपी सांसद जनार्दन मिश्रा, एक बार फिर से विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में हैं। उन्होंने कहा है कि मैं खुद ही गोली का समर्थक हूं। विकास दुबे एनकाउंटर पर बात करते हुए सांसद ने कहा कि वह गोली मारने वाले के समर्थक हैं, जिसके बाद सांसद के आसपास बैठे लोग खुद को असहज महसूस करने लगे। इतना ही नहीं सांसद ने कहा कि देश अपराधियों का गढ़ बन चुका है और अपराधियों को प्रधानमंत्री से लेकर सरपंच तक के लोगों का समर्थन रहता है। मीडिया से बात करते हुए सांसद ने कहा कि चाहे कोई मुख्यमंत्री हो प्रधानमंत्री हो या फिर केंद्रीय मंत्री हो आज हर अपराधी इनके संपर्क में है।
—–
बॉलिवुड में कोरोना वायरस का कहर असर दिखाने लगा है। बीसवीं सदी के महानायक रहे रूपहले पर्दे पर अपना जलवा बिखेरने वाले अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन के बाद अब ऐश्वर्या राय बच्चन और उनकी बेटी आराध्या बच्चन भी कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाई गई हैं। पहले उनका एंटिजन टेस्ट नेगेटिव आया था लेकिन अब उनका स्वैब टेस्ट पॉजिटिव आया है। हालांकि अभी तक ऐश्वर्या और आराध्या घर पर ही हैं। माना जा रहा है कि उन्हें घर पर ही होम क्वॉरेंटीन किया जाएगा।
बताया जा रहा है कि आराध्या और ऐश्वर्या में कोरोना के किसी प्रकार के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे थे। हालांकि अभिषेक बच्चन को कुछ दिनों से हल्का बुखार था जिसके बाद उनका कोरोना टेस्ट कराया गया और वह पॉजिटिव पाए गए, वहीं अमिताभ बच्चन को हल्की सांस लेने में तकलीफ की शिकायत थी। अभिषेक बच्चन, एक डबिंग स्टूडियो जाया करते थे जिसे सैनेटाइज कर दिया गया है। अभी कुल 26 व्यक्तियों की पहचान की गई है और उनका टेस्ट हो रहा है।
—–
कोविड-19 के कारण कोर्ट के बंद होने से ज्यादातर वकील भारी वित्तीय संकट में आ गए हैं। बार काउंसिल ऑफ दिल्ली ने पीएम को लेटर लिखकर कंटिंजेंसी फंड या पीएम केयर फंड से वकीलों के लिए 500 करोड़ रुपये की सहायता मांगी है। बार काउंसिल ऑफ दिल्ली के चेयरमैन केसी मित्तल ने पीएम नरेंद्र मोदी को लिखे लेटर में कहा है कि दिल्ली और एनसीआर में एक लाख से ज्यादा वकील हैं। कोविड 19 महामारी फैलने के बाद उनकी आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है।
उन्होंने पत्र में लिखा है कि वकील अपनी बेसिक जरूरतों को पूरा नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि कोरोना के कारण कोर्ट बंद है और वो घर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वकील निसहाय हो चुके हैं। ये स्थिति कब तक चलेगी इसका पता नहीं है और वकील लगातार कठिन परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं। 4 महीने से बिना काम किए वो घर में बंद हैं। उन्हें आर्थिक सहायता के लिए बार काउंसिल ऑफ दिल्ली ने 8 करोड़ रुपये बांटे हैं लेकिन वह नाकाफी है।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जानने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
कोविड 19 से होने वाली मौत के मामले में मृतक के परिजनों को मुआवजा दिए जाने के लिए गाइडलाइंस बनाए जाने की गुहार लगाई गई है। सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर भारत सरकार और देश के तमाम राज्यों को प्रतिवादी बनाया गया है और सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई गई है कि सरकार को निर्देश दिया जाए कि वह मुआवजे के लिए गाइडलाइंस तैयार करे ताकि कोरोना से होने वाली मौत के मामले में मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जा सके।
सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अर्जी में कहा गया है कि लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। रोजाना लोग कोरोना के कारण मर रहे हैं। कई डॉक्टर, पैरा मैडिकल स्टाफ से लेकर हेल्थ केयर से जुड़े लोग कोरोना के शिकार हुए हैं और उनकी मौतें भी हुई है। साथ ही कोरोना के समय में रोजाना टैक्स करदाताओं का जीवन दांव पर लगा हुआ है। लोग कोरोना के समय लगातार अपनी ड्यूटी कर रहे हैं और जीवन खतरे में पड़ रहा है। समय की मांग है कि जिन नागरिकों की जिंदगी खतरे में पड़ती है उनको सरकार सेफगार्ड करे। अगर नौकरी और ड्यूटी के वक्त किसी की जान जाती है तो सरकार को चाहिए कि वह उनके परिजनों को मुआवजा दे।
याचिकाकर्ता ने अपनी दलील में कहा है कि कोविड 19 को डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत आपदा घोषित किया गया है। देश के आम नागरिक रोजाना इससे मर रहे हैं। कई लोग ऐसे हैं जो ड्यूटी के दौरान मरें हैं। देश के बहुसंख्यक लोग गरीब हैं ऐसे में सरकार को चाहिए कि वह मानवीय अप्रोच दिखाए और कोविड 19 की जबतक वैक्सीन नहीं आ जाती और जिनकी मौत कोविड के कारण हुई हो वैसे तमाम मामले में नागरिक को रिलीफ दिया जाए।
—–
उत्तर प्रदेश सरकार ने गैंगस्टर विकास दुबे और उसके साथियों द्वारा अंजाम दिए गए बिकरू कांड और उसके बाद विकास दुबे समेत उसके अन्य साथियों के पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे जाने की घटना की जांच के लिए एकल जांच आयोग का गठन किया है। सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति शशि कांत अग्रवाल इस आयोग के अध्यक्ष होंगे। आयोग का मुख्यालय कानपुर में होगा और इसका कार्यकाल फिलहाल दो महीने तय किया गया है।
इस संबंध में रविवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि बिकरू गांव की घटना और उसके बाद 3 जुलाई से 10 जुलाई की अवधि के दौरान इस प्रकरण से संबंधित विभिन्न स्थानों पर पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़ एक लोक महत्व का विषय है। इस कारण इस संबंध में जांच करना आवश्यक है।
आयोग दिनांक 2/3 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच पुलिस और इस प्रकरण से संबंधित अपराधियों के बीच हुई प्रत्येक मुठभेड़ की भी गहनतापूर्वक जांच करेगा। आयोग विकास दुबे और उसके साथियों की पुलिस तथ अन्य विभागों या व्यक्तियों से दुरभिसंधि की भी जांच करेगा और भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति को रोकने के लिए अपने सुझाव भी देगा।
——————————
यूपी में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के बीच योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अब यूपी में शनिवार और रविवार को बाजार बंद रहेंगे। सीएम योगी ने रविवार को टीम 11 की नियमित बैठक में मंत्रियों और अधिकारियों के साथ विचार विमर्श के बाद यह निर्णय लिया। प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया है कि बैंक व औद्योगिक संस्थान खुले रहेंगे। बाकी सब बाजार व माल, अन्य भीड़ भाड़ वाली गतिविधियां बंद रहेंगी। इसके अलावा सरकारी दफ्तर जो शनिवार को बंद रहते थे वे तो बंद ही रहेंगे, बाकी सरकारी दफ्तरों में पचास-फीसदी हाजिरी का सख्ती से पालन होगा।
अभी यूपी सरकार राज्य में शुक्रवार रात दस बजे से 55 घंटे का लॉकडाउन लागू किया गया है। सरकार ने 55 घंटे के लॉकडाउन के बाद अब हर हफ्ते में दो दिन का लॉकडाउन करने का निर्णय लिया गया है। मिनी लॉकडाउन के तहत प्रदेश में अब सिर्फ पांच दिन कायार्लय तथा बाजार खुलेंगे। इसके तहत आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अब सब बंद रहेगा। प्रदेश में अब हर हफ्ते वीकेंड लॉकडाउन लगेगा। इसके तहत हफ्ते में दो दिन सभी दफ्तर के साथ बाजार बंद रहेंगे। अब हर शनिवार व रविवार को वीकेंड लॉकडाउन होगा। प्रदेश सरकार के कायार्लय के साथ ही सभी ऑफिस भी बंद रहेंगे। जिला स्तर पर जिलाधिकारी को भी नियम बनाने की छूट दी गई है।
—–
देश में अब तक कोरोना के लिये 01 करोड़ 15 लाख 87 हजार 153 जांच की जा चुकी हैं। वर्तमान में कोरोना से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा देश में 08 लाख 54 हजार 480 हो गया है। इसमें से सक्रिय मरीजों की तादाद 02 लाख 93 हजार 781 और रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 05 लाख 37 हजार 599 है। इस बीमारी से र्हुइं मृत्यु का आंकड़ा 22 हजार 718 हो गया है। जिन राज्यों में कोरोना संक्रमितों की तादाद पांच हजार से अधिक है वहां एक्टिव मरीजों की जो जानकारी आ रही है उसके अनुसार महाराष्ट्र में वर्तमान में 99 हजार 202 एक्टिव मरीज हैं।
इसके बाद तमिलनाडू में 46 हजार 413 एक्टिव मरीज, कर्नाटक में 20 हजार 879, दिल्ली में 19 हजार 895 एक्टिव मरीज, आंध्र प्रदेश में 13 हजार 428, तेलंगाना में 12 हजार 135, उत्तर प्रदेश में 11 हजार 490, गुजरात में 10 हजार 309, पश्चिम बंगाल में 09 हजार 588, असम में 05 हजार 602, राजस्थान में 05 हजार 492, बिहार में 05 हजार 196. हरयाणा में 05 हजार 54, उड़ीसा में 04 हजार 677, जम्मू काश्मीर में 04 हजार 92, मध्य प्रदेश में 03 हजार 878, केरल में 03 हजार 442 और
पंजाब में 02 हजार 352 एक्टिव मामले हैं।
————
12 जुलाई को दोपहर 1 बजकर 31 मिनट पर अपनी राशि मिथुन में चल रहे बुध मार्गी हो गए हैं। इससे पहले 25 मई को इस राशि में बुध का प्रवेश हुआ था और 18 जून को वह वक्री हो गए थे। इस शुभ ग्रह का वक्री से मार्गी होने अर्थव्यवस्था के लिए शुभ है। कारोबार और अर्थव्यवस्था में स्थिति बेहतर होगी। 2 अगस्त को बुध कर्क राशि में आकर सूर्य से मिलेंगे, इस बीच कूटनीतिक मामलों में भारत की स्थिति मजबूत होगी। राशियों पर बुध के मार्गी होने के प्रभाव पर बात करें तो कई राशियों के लिए यह सुखद रहने वाला है।
——-
आप सुन रहे थे समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शरद खरे से रविवार 12 जुलाई का राष्ट्रीय आडियो बुलेटिन। सोमवार 13 जुलाई को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, यदि आपको ये आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। अभी आपसे अनुमति लेते हैं, नमस्कार।