04 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन पढिए

नमस्कार, आप सुन रहे हैं समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 04 सितंबर 2020 का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन, अब आप रीना सिंह से समाचार सुनिए.
—–
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आम जनता के हित में और बस आपरेटर्स की समस्याओं को दूर करने के लिये यात्री बसों के सुचारू संचालन का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में बस संचालकों एवं उससे जुड़े लोगों की परेशानियों के दृष्टिगत यात्री बसों पर देय मासिक वाहनकर को 1 अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि तक पूर्णतः माफ किया जाएगा। साथ ही यात्री बसों के संचालन की स्थिति पुनः सामान्य रूप से हो सके इसको दृष्टिगत रखते हुए माह सितंबर 2020 के देय मासिक वाहनकर में 50 प्रतिशत की छूट एवं वाहनकर जमा करने की तिथि को 30 सितम्बर 2020 तक बढ़ाया गया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बस आपरेटर्स और प्रदेश की जनता के हित में लिये गये इस निर्णय से अब प्रदेश में पूर्ण क्षमता के साथ बसें पुनरू चालू हो जाएगी। इससे जहां एक ओर आमजन को आवागमन की सुविधा मिल सकेगी, वहीं दूसरी ओर यात्री बसों से जुड़े रोजगार प्रारंभ हो सकेंगे।
उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को दृष्टिगत रखते हुए 25 मार्च 2020 से लॉक डाउन के कारण बसों का संचालन प्रतिबंधित किया गया था। राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों के अनुरूप उनके संचालन की क्रमशः अनुमतियां भी दी गयी हैं। किन्तु व्यावहारिक रूप से बसों का संचालन सामान्य रूप से नहीं हो सका। राज्य शासन द्वारा लिये गये उक्त निर्णय से प्रदेश के बस आपरेटर्स की परेशानियां खत्म होंगी और आमजन की सुविधा के लिये अब बसों का पूरी क्षमता के साथ संचालन शुरू हो सकेगा। इसी क्रम में यात्री किराये के पुनर्निधारण के लिये किराया निर्धारण समिति को जिम्मेदारी सौंपते हुए शीघ्र निराकरण के निर्देश दिये गये हैं।
—–
मध्यप्रदेश में पिछले कुछ दिनों से चल रही चुनाव की तारीखों को लेकर तस्वीर काफी हद तक साफ होने लगी है। चुनाव आयोग ने इस बात का ऐलान कर दिया है कि देश में विधानसभा और लोकसभा की सभी सीटों पर उपचुनाव 29 नवंबर से पहले हो जाएंगे। यह उपचुनाव बिहार विधानसभा के चुनावों के साथ ही कराए जाएंगे। दोनों ही चुनावों की तारीखों का ऐलान जल्द किया जाएगा। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में रिक्त पड़ी 27 सीटों पर उपचुनाव होना है।
दिल्ली में शुक्रवार को हुई चुनाव आयोग की बैठक में यह फैसला लिया गया। इसके तहत देशभर में 64 विधानसभा सीटों और एक लोकसभा सीट पर उपचुनाव होना है। ऐसे में इन सभी सीटों पर उपचुनाव बिहार विधानसभा के चुनावों के साथ कराए जाएंगे। बिहार में 29 नवंबर से पहले चुनाव संपन्न होना है। मध्यप्रदेश में 27 सीटों पर चुनाव कराए जाएंगे, यह देश में अब तक का सबसे बड़ा उपचुना है, जिसमें एक साथ 27 सीटों पर वोटिंग होगी।
मध्य प्रदेश समेत जिन आठ राज्यों में उपचुनाव होना है उनमें उत्तरप्रदेश, गुजरात, हरियाणा, तमिलनाडु, असम, केरल, नागालैंड शामिल हैं। इनमें सबसे अधिक 27 सीटों पर उपचुनाव मध्यप्रदेश में होना है। चुनाव आयोग ने हालांकि कहा है कि तारीखों का ऐलान उचित समय पर कर दिया जाएगा। साथ ही जिन सीटों पर उपचुनाव होना है, उनकी तारीखों का ऐलान भी जल्द किया जाएगा।
—–
कोरोना वायरस के बीच जिंदगी एक बार फिर से पटरी पर लौटने में लगी है। अनलॉक चार के लिए केन्द्र सरकार ने गाइडलाइन जारी कर दी है, लेकिन बड़ी सवाल ये है कि स्कूल कब खुलेंगे। स्कूलों के खुलने को लेकर मध्यप्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने बड़ा बयान दिया है। इसके साथ ही उन्होंने निजी स्कूलों के फीस मामले को लेकर भी कहा कि हम इसके लिए कानून बनाने की तैयारी कर रहे हैं।
स्कूल शिक्षा मंत्री ने स्कूल खोलने के समय पर कहा कि अभी कोरोना काल चल रहा है। भारत सरकार ने जो गाइडलाइन जारी की है हम उसका पालन करेंगे। अभी हम स्कूल नहीं खोल सकते हैं फिलहाल स्कूलों को बंद रखना पड़ेगा, क्योंकि अगर किसी बच्चे को कुछ हो गया उसका जवाब भी हमें ही देना है। इसलिए हमारी यह मजबूरी है। बता दें कि केन्द्र द्वारा जारी गाइडलाइन में 30 सितंबर तक स्कूल बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।
निजी स्कूलों की फीस को लेकर मंत्री ने कहा- हाईकोर्ट ने निजी स्कूलों के फीस वसूलने पर रोक लगाई है, वह सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि कहीं पर फीस वसूली जा रही है और उसकी शिकायत मिली तो हम स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि निजी स्कूलों पर सरकार का बहुत ज्यादा नियंत्रण नहीं है, फीस वाले मामले में खासकर, इसे लेकर हम कानून भी बनाने जा रहे हैं। मंत्री ने कहा कि फीस जमा नहीं होने पर भी छात्रों के नाम नहीं काटे जाएंगे।
निजी स्कूलों द्वारा फीस वसूली के मामले में मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने साफ किया है कि निजी स्कूल फीस नहीं वसूल सकते हैं केवल ट्यूशन फीस लेंगे। इस मामले में अगली सुनवाई 10 सिंतबर को होगी।
—–
समाचारों के बीच में हम आपको यह जानकारी भी दे दें कि मौसम के अपडेट जाने के लिए समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के चेनल पर रोजाना अपलोड होने वाले वीडियो जरूर देखें। मौसम से संबंधित अपडेट मूलतः किसानों, निर्माण कार्य करवाने वालों आदि के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं। समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया के द्वारा अब तक मौसम के जो पूर्वानुमान जारी किए गए हैं, वे 95 से 99 फीसदी तक सही साबित हुए हैं।
—–
जबलपुर के मेडिकल कॉलेज स्थित सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के कोविड वार्ड से एक मरीज ने छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। मरीज प्रमोद सोनकर ने अस्पताल के शौचालय से छलांग लगाई और मौत को गले लगा लिया। घटना की जानकारी पर कलेक्टर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मेडिकल कॉलेज पहुंच गये। जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा जांच कमेटी गठित कर दी है जो इस मामले की जांच करेंगी। इससे पहले यहां से 2 मरीज कूदने की कोशिश कर चुके हैं जिन्हें समय रहते बचा लिया गया था।
इससे पहले 23 अगस्त को मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कोविड-19 सेंटर से सुबह एक मरीज ने छलांग लगाने की कोशिश की, एक मरीज खिड़की से निकलकर अस्पताल की तीसरी मंजिल पर आकर कूदने के लिए बैठा था। इसी बीच अस्पताल कर्मियों को पता चल गया और उसे बचा लिया। यह वार्ड में तीसरी मंजिल पर है जिसमें मरीज भर्ती था। घटना के बाद हड़कंप मच गया। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने इस तरह के मामलों से बचने के लिये पुलिस बल तैनात किया गया था।
—–
मप्र हाइकोर्ट ने मप्र मोटर वीकल कराधान अधिनियम की संवैधानिकता को चुनौती देने वाली याचिका पर राज्य सरकार के परिवहन विभाग प्रमुख सचिव व परिवहन आयुक्त को नोटिस जारी किए। चीफ जस्टिस एके मित्तल व जस्टिस सुजय पॉल की डिवीजन बेंच ने पूछा कि सवारियों की बजाय सीट क्षमता के आधार पर वाहनों से टैक्स क्यों वसूला जा रहा है। कोर्ट ने 6 अक्टूबर तक जवाब मांगा।
जबलपुर के बस ऑपरेटर वीरेंद्र कुमार साहू व अन्य की ओर से याचिका दायर की गई। अधिवक्ता आशीष त्रिवेदी ने तर्क दिया कि संविधान की 7वीं अनुसूची के अनुसार वाहन में बैठी सवारियों के आधार पर टैक्स वसूला जा सकता है। लेकिन मप्र मोटर वीकल कराधान अधिनियम के प्रावधानों के तहत स्टेज कैरेज परमिट के वाहनों (बसों, अन्य सवारी वाहनों) से उनकी सवारियां बिठाने की क्षमता के आधार पर टैक्स लगाया जा रहा है। यह संविधान का उल्लंघन है। अधिनियम के प्रावधानों को असंवैधानिक घोषित किया जाए।
—–
कोरोना के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 40 लाख के करीब पहुंच रहा है। वर्तमान में यह आंकड़ा 39 लाख 52 हजार 225 पहुंच गया है। देश में कुल एक्टिव मरीजों की तादाद से लगभग 22 लाख 10 हजार से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक सक्रिय मरीजों की तादाद 08 लाख 36 हजार 874 एवं रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 30 लाख 46 हजार 44 है, एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 68 हजार 707 है। अब तक देश में कुल 04 करोड़ 66 लाख 79 हजार 145 लोगों का कोविड परीक्षण कराया जा चुका है। इधर, मध्य प्रदेश में संक्रमित मरीजों की तादाद का आंकड़ा 68 हजार से ज्यादा हो गया है। यहां कुल संक्रमित मरीजों की तादाद से लगभग 37 हजार 327 से ज्यादा लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। प्रदेश में आंकड़ा 68 हजार 586 पहुंच गया है, जिसमें एक्टिव मरीजों की तादाद 14 हजार 888, रिकव्हर्ड मरीजों की तादाद 52 हजार 215 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 1 हजार 483 है। प्रदेश में अब तक 14 लाख 40 हजार से ज्यादा लोगों का टेस्ट कराया जा चुका है।
प्रदेश में जिन जिलों में कोरोना के संक्रमित मरीजों की तादाद एक हजार से ज्यादा है उनमें वर्तमान में इंदौर में 13 हजार 752 कुल मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 03 हजार 849 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 406 है, भोपाल में 11 हजार 56 कुल मरीज, एक्टिव मरीजों की तादाद 1 हजार 560, जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 296, ग्वालियर में 05 हजार 861 कुल मरीजों में एक्टिव मरीजों की तादाद 01 हजार 598 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 58, जबलपुर में कुल 04 हजार 452 में से एक्टिव मरीजों की संख्या 01 हजार 05 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 88, मुरैना में कुल मरीजों की संख्या 2 हजार 117 एवं सक्रिय मरीजों की तादाद 122 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 15, उज्जैन में एक हजार 862 कुल में से एक्टिव मरीजों की तादाद 294 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 80, खरगौन में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 693, एक्टिव मरीजों की तादाद 344 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी संख्या 28, नीमच में कुल मरीजों की संख्या 01 हजार 269 में से एक्टिव मरीज 225 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 17, बड़वानी में कुल एक हजार 166 में से एक्टिव मरीजों की तादाद 118 एवं जिनका निधन हुआ उनकी संख्या 15, सागर में एक हजार 198 कुल मरीजों में से 188 एक्टिव एवं मरने वालों की तादाद 55, रतलाम में एक हजार 74 मरीजों में से एक्टिव की तादाद 250 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 19 है। शिवपुरी में कुल एक हजार 57 मरीजों में से एक्टिव मरीजों की तादाद 449 एवं जिनका निधन हुआ है उनकी तादाद 07 है। प्रदेश में एक भी जिले में एक्टिव मरीजों की तादाद शून्य नहीं है, इसके साथ ही निवारी, डिंडोरी और उमरिया में ही मरीजों की तादाद 200 से कम है, शेष जगहों पर मरीजों की तादाद 200 से ज्यादा पहुंच गया है।
———
आप सुन रहे थे रीना सिंह से समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया में शुक्रवार 04 सितंबर का प्रादेशिक आडियो बुलेटिन। शनिवार 05 सितंबर को आडियो बुलेटिन का अवकाश रहेगा इसलिए रविवार 06 सितंबर को एक बार फिर हम आडियो बुलेटिन लेकर हाजिर होंगे, अगर आपको यह आडियो बुलेटिन पसंद आ रहे हों तो आप इन्हें लाईक, शेयर और सब्सक्राईब जरूर करें। फिलहाल इजाजत लेते हैं, नमस्कार।
(साई फीचर्स)

———